सात्विक-चिराग ने टॉप सीड सेतियावान-अहसान को हराकर इंडिया ओपन का युगल खिताब जीतने वाले पहले भारतीय जोड़ीदार बने

India Open Badminton: भारत के सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी (India's Satwiksairaj Rankireddy-Chirag Shetty) ने रविवार को केडी जाधव इंडोर हॉल में अपने जीवन के शानदार और साहसिक प्रदर्शनों में से एक को अंजाम देते हुए योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन 2022 का पुरुष युगल खिताब जीत लिया

सात्विक-चिराग ने टॉप सीड सेतियावान-अहसान को हराकर इंडिया ओपन का युगल खिताब जीतने वाले पहले भारतीय जोड़ीदार बने

सात्विक-चिराग ने टॉप सीड सेतियावान-अहसान को हराकर इंडिया ओपन का युगल खिताब जीता

India Open Badminton: भारत के सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी (India's Satwiksairaj Rankireddy-Chirag Shetty) ने रविवार को केडी जाधव इंडोर हॉल में अपने जीवन के शानदार और साहसिक प्रदर्शनों में से एक को अंजाम देते हुए योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन 2022 का पुरुष युगल खिताब जीत लिया. भारतीय जोड़ीदारों ने एचएसबीसी बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर टूर्नामेंट सीरीज के तहत खेले गए इस टूर्नामेंट के खिताबी मुकाबले न सिर्फ खिताब जीता बल्कि अपने से ऊंची रैंक वाले खिलाड़ियों को भारी दबाव में डाल दिया.  दूसरी वरीयता प्राप्त भारतीयों ने दूसरे गेम में पांच गेम अंक बचाए और शीर्ष वरीयता प्राप्त हेंड्रा सेतियावान और मोहम्मद अहसान को 21-16, 26-24 से हराकर अपना दूसरा सुपर 500 खिताब जीता.
 
अपने प्रतिद्वंद्वी के त्वरित अंक लेने के कौशल से अवगत, चिराग और सात्विक के पास लंबी रैलियां खेलने की स्पष्ट योजना थी. इसका मतलब था कि वे सॉफ्ट नेट स्ट्रोक खेलने के लिए तैयार थे और यहां तक कि इंडोनेशियाई जोड़ीदारों को गलती करने के लिए मजबूर करने के लिए तैयार थे.  साथ ही साथ वे फ्लैट रैलियां खेलने के शीर्ष-वरीय जोड़ीदारों के शानदार खेल का मुकाबला करने के लिए भी तैयार थे. उसने उन्हें शुरुआत में इंडोनेशियाई जोड़ीदारों साथ तालमेल बनाए रखने में मदद की, पहले गेम में 15वें प्वाइंट पर जाकर वे अपनी रैलियों को लम्बा खींचने में सफल हुए.

साइना के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की रिजिजू ने की निंदा, कहा देश को उन पर गर्व

 यह अप्रोच अपने सीनियर विरोधियों को थकाने के लिए था और इसमें अगर प्वाइंट गंवाना पड़ता तो वे इसके लिए भी तैयार थे लेकिन वे अपने प्लान पर बने रहना चाहते थे. इससे सेतियावान और अहसान को कुछ अंक जीतने का मौका मिला और इसकी मदद से वे पहला गेम 13-13 की बराबरी पर लाने में सफल रहे. सात्विक के बड़े स्मैश ने हालांकि इस गेम में अंतर पैदा किया और भारतीय जोड़ीदार यह गेम जीतने में सफल रहे.
 
दूसरा गेम काफी करीबी रहा. इसका कारण था कि इंडोनेशियाई खिलाड़ियों ने अधिक जोखिम लेना शुरू कर दिया था. यहां तक कि सेतियावान ने भी भारतीयों को परेशान करने के लिए बड़े स्मैश करने की कोशिश की, लेकिन चिराग और सात्विक अपनी रक्षा के लिए मुस्तैद थे.


नोवाक जोकोविच ऑस्ट्रेलिया से निर्वासन से बचने के लिए कानूनी लड़ाई हारे

 इंडोनेशियाई खिलाड़ियों ने अपने सभी अनुभवों का इस्तेमाल करते हुए अपना पहला गेम प्वाइंट हासिल किया. वहां से हालांकि इंडोनेशियाई जोड़ीदारों ने कई गलतियां की क्योंकि वे त्वरित अंकों की तलाश में थे. सेतियावान ने एक बार नेट पर सर्व किया, जबकि अहसान ने गेम प्वाइंट पर फ्लिक सर्व करने के दौरान फाउल किया. जवाब में भारतीयों ने कुछ शानदार शॉट चयन के साथ दबाव बनाए रखा. उन्होंने अंततः पांच गेम पॉइंट बचाकर 43 मिनट में मैच को समेटकर नए नए सीजन की शुरुआत में एक शानदार खिताबी जीत दर्ज की. 

दूसरे गेम में पांच गेम पॉइंट के बारे में सात्विक ने कहा, “हम जानते थे कि वे थके हुए हैं और जोखिम लेंगे. इसलिए, हमने चीजों को चुस्त-दुरुस्त रखा और हमारा यह प्रयास काम कर गया.” शनिवार को हुए सेमीफाइनल के बाद नेट प्ले का अभ्यास करने वाले चिराग ने कहा, "आज हमने जिस तरह से डिफेंड किया वह बहुत शानदार था. मुझे लगता है कि जिस तरह से हमने दबाव को संभाला और दूसरे गेम के अंतिम चरण में खुद को शांत बनाए रखा वह वास्तव में काफी अच्छा था."
 
इससे पहले, थाईलैंड की दूसरी वरीयता प्राप्त बुसानन ओंगबामरुंगफान ने हमवतन सुपनिदा कटेथोंग को 22-20, 19-21, 21-13 से हराकर महिला एकल का खिताब अपने नाम किया.  थाईलैंड की बेन्यापा और नुंतकर्ण एमसार्ड ने रूस की अनास्तासिया अक्चुरिना और ओल्गा मोरोज़ोवा को 21-13, 21-15 से हराकर महिला युगल खिताब जीता, जबकि ही योंग काई टेरी और टैन वेई हान की सिंगापुर की पति-पत्नी की जोड़ी ने मलेशिया की तीसरी वरीयता प्राप्त चेन टैंग जी और पेक येन को मिश्रित युगल के फाइनल में वेई 21-15, 21-18 से हराया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


टेनिस खिलाड़ी नोवोक जोकोविच का वीजा ऑस्‍ट्रेलिया ने रद्द किया, जानिए क्‍या है पूरा विवाद .