ओलिंपिक्स में सभी की हर रोज़ होगी टेस्टिंग और एक्टिविटी प्लान के अलावा नहीं होगी मूवमेंट की इजाज़त

Tokyo Olympic: टोक्यो बहुत ही सख़्त नियमों के साथ दुनिया भर के दस हज़ार से ज़्यादा एथलीट और क़रीब इतने ही पत्रकारों की मेज़बानी की तैयारी कर रहा है. इस बीच ओलिंपिक खेलों में हिस्सा लेने वाले सभी देशों की नेशनल ऑर्गेनाइज़ेशन कमेटी के कोविड लाइज़निंग अफसरों (CLO) के साथ मीटिंग्स के दौर जारी हैं.

ओलिंपिक्स में सभी की हर रोज़ होगी टेस्टिंग और एक्टिविटी प्लान के अलावा नहीं होगी मूवमेंट की इजाज़त

ओलिंपिक्स में सभी की हर रोज़ होगी टेस्टिंग

Tokyo Olympic: टोक्यो बहुत ही सख़्त नियमों के साथ दुनिया भर के दस हज़ार से ज़्यादा एथलीट और क़रीब इतने ही पत्रकारों की मेज़बानी की तैयारी कर रहा है. इस बीच ओलिंपिक खेलों में हिस्सा लेने वाले सभी देशों की नेशनल ऑर्गेनाइज़ेशन कमेटी के कोविड लाइज़निंग अफसरों (CLO) के साथ मीटिंग्स के दौर जारी हैं. इन CLO को बताया जा रहा है कि उनके देश के एथलीट या पत्रकार या दूसरे किसी भी सदस्य को टोक्यो ओलिंपिक्स (Tokyo Olympic) के दौरान कैसे अपना आचरण रखना होगा. भारतीय दल के डिप्टी शेफ़ डि मिशन और कोविड लायज़निंग अफ़सर (CLO) डॉ. प्रेम कुमार कहते हैं, "इस बार सभी को जाने से 21 दिन पहले टोक्यो का अपना एक्टिविटी प्लान बताना होगा. इस एक्टिविटी प्लान के अलावा किसी भी और मूवमेंट की ज़रा भी इजाज़त नहीं होगी."

डिप्टी शेफ़ डि मिशन डॉ. प्रेम कुमार कहते हैं कि इस एक्टिवीटी की लिस्ट भी टोक्यो 2020 ओलिंपिक गेम्स ऑर्गेनाइज़िंग कमेटी ने जारी की है. इसके मुताबिक किसी भी साइट सीइंग यानी टोक्यो में घूमने, मॉल जाने, रिश्तेदारों से मिलने या टोक्यो को लोकल नागरिकों से मिलने-जुलने की इजाज़त नहीं होगी. यहां तक कि एक्टिविटी प्लान के अलावा किसी दुकान में जाने या कोई बिना लिस्टेड टैक्सी में भी बैठने की इजाज़त नहीं होगा.  डॉ. प्रेम वर्मा  वो ये भी बताते हैं कि टोक्यो पहुंचने के बाद सबों की हर रोज़ टेस्टिंग होगी और पॉज़िटिव आने या पॉज़िटिव आने वाले लोगों के कॉन्टैक्ट में  आने पर क्वारन्टीन होना होगा. 

नेत्रा कुमनन ने रचा इतिहास, ओलिंपिक के लिए क्वालीफायी करने वाली पहली भारतीय नौकाचालक बनीं

डॉ. प्रेम वर्मा भारतीय ओलिंपिक दल की तैयारी वाइस चेयरमैन भी हैं. वो कहते हैं, "जापान में नियमों का सख़्ती से पालन होता है. उन्होंने जापान पहुंचने वाले सभी खिलाड़ियों के लिए निर्देश जारी किए हैं जिनका पालन करना ज़रूरी होगा. " डॉ. प्रेम वर्मा के मुताबिक जापान से जारी दिशा निर्देशों में अहम है कि- 

# सभी को टोक्यो के लिए अपना पूरा एक्टिविटी प्लान पहले ही बताना होगा.

# कोविड टेस्टिंग सर्टिफ़िकेट लेकर जाना होगा.

# अपने स्मार्ट फ़ोन पर कॉन्टैक्ट कनफ़र्मिंग एप यानी COCOA App को जापान में  डाउनलोड करना होगा

# जापान जाने से पहले अपने ही देश में उनके हेल्थ रिपोर्टिंग एप HRA को डाउनलोड करना होगा  और जाने से 14 दिनों पहले अपने हेल्थ की मॉनिटरिंग करनी  होगी जो एप में रिकॉर्ड हो जाएगी.

# जापान पहुंचने से चार दिनो पहले (96 घंटे पहले) जापान द्वारा निर्धारित लैब में कोविड-19 की दो निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट लानी होगी.

जापान कोविड की चौथी लहर का सामना कर रहा है


जापान, वायरस एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अपने यहां कोविड की चौथी लहर का सामना कर रहा है. जापान में अब तक 7 लाख से ज़्यादा संक्रमण के मामले आए हैं  और 12 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. लेकिन इनमें से 98 फ़ीसदी लोग रिकवर भी कर चुके हैं. फ़िलहाल अकेले टोक्यो शहर में औसतन सात दिनों  पर क़रीब 700 केस आ रहे हैं. टोक्यो 2020 ओलिंपक ऑर्गेनाइज़िंग कमेटी प्लेबुक 1, 2, 3 जारी कर एक तरह से कोविड के खिलाफ़ अभियान चला रही है.  इसे दुनिया के सभी NOC या नेशनल ऑर्गेनाइज़िंग कमेटी को  भी भेजा जा रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भारतीय एथलीटों की तैयारी पर भी कोरोना महामारी के दौर का असर पड़ा है. लेकिन अब वो वैक्सीनेशन के साथ मैदान में उतरने को तैयार दिखाई दे रहे हैं. भारतीय  दल के डिप्टी शेफ़ डि मिशन और भारतीय दल के कोविड लायज़निंग अफ़सर (CLO) डॉ. प्रेम कुमार बताते हैं कि 90 फ़ीसदी खिलाड़ियों और कोच की वैक्सीनेशन  प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और वक्त से पहले सबको वैक्सीन की दूसरी डोज़ भी दे दी जाएगी.