भतीजे के रोने से पढ़ाई में खलल पड़ने पर देवर को इतना गुस्सा आया कि भाभी की हत्या कर डाली

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के गांधी नगर पुलिस थाना क्षेत्र के शांतिनगर में हुई वारदात, 'नीट' की तैयारी कर रहे आरोपी युवक को पुलिस ने हिरासत में लिया

भतीजे के रोने से पढ़ाई में खलल पड़ने पर देवर को इतना गुस्सा आया कि भाभी की हत्या कर डाली

प्रतीकात्मक फोटो.

भोपाल:

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) के गांधी नगर पुलिस थाना क्षेत्र में सोमवार शाम को 22 वर्षीय युवक ने अपनी भाभी की कथित तौर पर चाकू मारकर हत्या कर दी. पुलिस ने इसकी जानलकारी दी. पुलिस ने बताया कि प्रारंभिक जांच में हत्या का कारण दो साल के भतीजे के रोने से चिकित्सा पाठ्यक्रम की प्रवेश परीक्षा (NEET) की तैयारी कर रहे देवर को पढ़ाई में खलल पैदा होता था और इससे भाभी और देवर में अक्सर विवाद होता था. उन्होंने बताया कि पुलिस ने आरोपी हिरासत में ले लिया है.

गांधी पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार शर्मा ने मंगलवार को बताया कि घटना सोमवार शाम को पांच बजे गांधी नगर थाना क्षेत्र के शांति नगर की है. सोमवार को मृतक कविता अहिरवार और उसकी सास घर में अपने काम में व्यस्त थीं. कविता का पति नौकरी पर घर से बाहर गया हुआ था.

उन्होंने बताया कि कविता का दो साल का बच्चा रो रहा था. इसको लेकर आरोपी मनोज ने भाभी से उसे चुप कराने के लिए कहा, क्योंकि उसे पढ़ने में दिक्कत हो रही थी. उन्होंने बताया कि इस पर कविता ने कहा कि चुप हो रहा है, थोड़ा सब्र करो. उन्होंने बताया कि यह सुनकर मनोज को गुस्सा आ गया और उसने सब्जी काटने वाले चाकू से कविता के गले, पेट और हाथ पर वार कर उसकी हत्या कर दी. घटना के बाद मनोज मौके से फरार हो गया.

अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया. उन्होंने मृतक के परिजन के हवाले से बताया कि मनोज भोपाल के गांधी मेडिकल कॉलेज से डायलिसिस का डिप्लोमा कोर्स कर चुका था और फिलहाल वह मेडिकल प्रवेश की परीक्षा नीट के लिए तैयारी कर रहा था. बच्चे के रोने से उसकी पढ़ाई में खलल होने से मनोज का अक्सर अपनी भाभी से विवाद होता था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि घटना के समय सास घर से बाहर बाथरूम में थी. उन्होंने कहा कि पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है विवेचना के बाद मामला दर्ज किया जाएगा.