आखिर क्यों कमलनाथ को मुख्यमंत्री चुने जाने पर भड़का अकाली दल, कांग्रेस को अंजाम भुगतने की दी चेतावनी

अकाली दल (Akali Dal) के नेता ने कांग्रेस पार्टी (Congress party) को चेतावनी देते हुए इस फैसले का अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहने की बात कही.

आखिर क्यों कमलनाथ को मुख्यमंत्री चुने जाने पर भड़का अकाली दल, कांग्रेस को अंजाम भुगतने की दी चेतावनी

कांग्रेस के फैसले का अकाली दल ने किया विरोध

खास बातें

  • मनजिंदर सिंह सिरसा ने जताया विरोध
  • कहा- देश भर में हो सकते हैं प्रदर्शन
  • 1984 दंगों में बताई कमलनाथ की भूमिका
नई दिल्ली:

आखिरकार कई दिनों के इंतजार के बाद कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार शाम को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर कमलनाथ (Kamal Nath) के नाम की घोषणा कर ही दी. पार्टी के इस फैसले के सभी ने स्वागत किया. खुद कमलनाथ ने इस पद को अपने लिए एक मील का पत्थर बताया. वहीं, कमलनाथ को सीएम बनाए जाने को लेकर अकाली दल (Akali Dal) ने अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दी है. अकाली दल (Akali Dal) के नेता ने कांग्रेस पार्टी (Congress party) को चेतावनी देते हुए इस फैसले का अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहने की बात कही. बता दें कि कमलनाथ (Kamal Nath) पर 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों में शामिल होने का आरोप है. इंदिरा गांधी की हत्या के विरोध में इन दंगों में देश भर में तीन हजार के करीब लोगों की हत्या हुई थी. 

यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश में सीएम पर सस्पेंस 'खत्म', भोपाल में कांग्रेस कार्यालय के बाहर लगे बधाई वाले पोस्टर...

अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने पीटीआई से कहा कि अगर कमलनाथ को मुख्यमंत्री के तौर पर चुना जाता है तो सिख देशभर में इसके विरोध में प्रदर्शन करेंगे.  उन्होंने कहा कि मैनें राहुल गांधी को पहले भी आगाह किया था कि अगर वह अपने परिजनों की तरह ही सिख दंगों शामिल लोगों को इस तरह से सम्मानित करते हैं तो इसका उन्हें खामियाजा भुगतना होगा. गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी ने कमलनाथ के चुने जाने की जानकारी अपने ट्विटर हैंडल से दी. पार्टी ने लिखा कि हम कमलनाथ जी को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर जुने जाने पर बधाई देते हैं.

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने कमलनाथ को क्यों बनाया मुख्यमंत्री, ये रहे पांच कारण

कमलनाथ के मुख्यमंत्री बनने से मध्यप्रदेश में एक नए दौर की शुरुआत होगी. वहीं कमलनाथ ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का यह पद उनके लिए एक मील के पत्थर की तरह है. 13 दिसंबर को, इंदिरा गांधी ने छिंदवाड़ा का दौरा किया था और मुझे जनता के हवाले किया था. मैं समर्थन करने के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं. मैंने उनके पिता के साथ काम किया है. यही कारण है कि मुझे खुशी है कि उन्होंने मेरे चयन का समर्थन किया.

VIDEO: कमलनाथ बने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री.

 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com