विज्ञापन
Story ProgressBack

"जब मुझे दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा...": राहुल गांधी का वायनाड की जनता के नाम भावुक पत्र

राहुल गांधी ने वायनाड और रायबरेली से लोकसभा चुनाव लड़ा था. दोनों ही सीटों पर जीत के बाद उन्‍होंने वायनाड सीट से इस्‍तीफा दे दिया था. हालांकि अब राहुल गांधी ने वायनाड के लोगों को एक भावुक पत्र लिखा है.

Read Time: 3 mins
"जब मुझे दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा...": राहुल गांधी का वायनाड की जनता के नाम भावुक पत्र
राहुल गांधी ने वायनाड के लोगों को उनके 'असीम प्यार और स्नेह' के लिए आभार व्यक्त किया. (फाइल)
नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने वायनाड के "बहनों और भाइयों" के नाम एक भावुक पत्र लिखा है. राहुल गांधी ने पिछले हफ्ते (18 जून) केरल की इस लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था, जबकि उत्तर प्रदेश की रायबरेली सीट को उन्‍होंने बरकरार रखा है, जिसका प्रतिनिधित्व पहले उनकी मां और अनुभवी कांग्रेस नेता सोनिया गांधी करती थीं. 

राहुल गांधी ने 17 जून को कांग्रेस अध्‍यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे द्वारा की गई दो सीटों की घोषणा की ओर इशारा करते हुए लिखा, "जब मैं मीडिया के सामने खड़ा था और आपको अपने फैसले के बारे में बता रहा था तो आपने मेरी आंखों में उदासी देखी होगी." खरगे के साथ राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका गांधी भी साथ थीं. कांग्रेस ने प्रियंका गांधी को वायनाड सीट से चुनाव मैदान में उतारने का फैसला किया है, जिस संसदीय सीट से उनके भाई लगातार दो बार जीते दर्ज कर चुके हैं. 

वायनाड से प्रियंका गांधी लड़ेंगी चुनाव 

खरगे ने पार्टी के शीर्ष नेताओं के साथ बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, "राहुल गांधी दो लोकसभा सीटों से जीते हैं, लेकिन कानून के अनुसार, उन्हें एक सीट खाली करनी होगी. राहुल गांधी रायबरेली बरकरार रखेंगे और हमने फैसला किया है कि प्रियंका जी वायनाड से लड़ेंगी." 

राहुल गांधी ने वायनाड के लोगों को उनके 'असीम प्यार और स्नेह' के लिए आभार व्यक्त करते हुए राहुल गांधी ने कहा, 'मैं आपसे पांच साल पहले मिला था. जब मैं पहली बार आपसे मिलने आया था तो आपका समर्थन मांगने आया था. मैं आपके लिए अजनबी था और फिर भी आपने मुझ पर विश्वास किया."

आपने बिना शर्त मेरी रक्षा की : राहुल गांधी 

उन्होंने कहा, "जब मुझे रोजाना दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा तो आपके बिना शर्त प्यार ने मेरी रक्षा की. आप मेरी शरण, मेरा घर और मेरा परिवार थे."

पूर्व कांग्रेस प्रमुख ने यह भी याद दिलाया कि कैसे "युवा लड़कियां हजारों लोगों के सामने मेरे भाषणों का अनुवाद करती थीं". 

हालांकि गांधी ने जोर देकर कहा कि उन्हें इस बात कि "सांत्वना है कि मेरी बहन प्रियंका आपका प्रतिनिधित्व करने के लिए वहां होंगी." उन्होंने आगे कहा, "यदि आप उन्हें अवसर देने का निर्णय लेते हैं तो मुझे विश्वास है कि वह आपकी सांसद बनकर उत्‍कृष्‍ट कार्य करेंगी." 

सांसद बनकर उत्‍कृष्‍ट कार्य करेंगी प्रियंका : राहुल गांधी 

इससे पहले, राहुल गांधी ने कहा कि यह उनके लिए एक कठिन निर्णय था क्योंकि उनका रायबरेली और वायनाड दोनों के साथ भावनात्मक संबंध है.

केरल में लोकसभा क्षेत्र के लोगों को धन्यवाद देते हुए गांधी ने कहा, "आप मेरे परिवार का हिस्सा हैं और मैं आप में से प्रत्येक के लिए हमेशा मौजूद रहूंगा."

प्रियंका गांधी यदि वायनाड से चुनाव जीतने में कामयाब रहती हैं तो यह पहली बार होगा कि गांधी परिवार के तीनों सदस्य - सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी एक साथ संसद में होंगे. सोनिया गांधी अब राज्यसभा की सदस्य हैं.

ये भी पढ़ें :

* राजकोट गेमिंग जोन ह‍ादसा : पीड़‍ितों के परिजनों से राहुल गांधी ने जूम कॉल पर बात की
* एजुकेशन सिस्टम को BJP के लोगों ने कैप्चर किया: NEET और NET पेपर लीक पर बोले राहुल गांधी
* ‘यूपी के दो लड़के' राजनीति को मोहब्बत की दुकान बनाएंगे ‘खटाखट खटाखट' : राहुल गांधी

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बिहार में दबंगों ने पहले पति-पत्नी को निर्वस्त्र कर पीटा, फिर की ये शर्मनाक हरकत
"जब मुझे दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा...": राहुल गांधी का वायनाड की जनता के नाम भावुक पत्र
जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में पुलिस चौकी पर आतंकी गोलीबारी के बाद पुलिस ने बड़ा हमला टाला
Next Article
जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में पुलिस चौकी पर आतंकी गोलीबारी के बाद पुलिस ने बड़ा हमला टाला
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;