विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Feb 15, 2021

दिशा रवि, निकिता जैकब, शांतनु मुलुक और अन्‍य के बीच गणतंत्र दिवस हिंसा के पहले हुई थी 'जूम काल' : दिल्‍ली पुलिस

दिल्‍ली पुलिस के अनुसार, दिशा के मोबाइल से काफी सबूत मिले हैं लेकिन काफी डेटा डिलीट भी मिली. शांतनु और दिशा एक्सआर नाम के एनजीओ से जुड़े हैं.

Read Time: 3 mins

टूल किट मामले में दिल्‍ली पुलिस ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करके अहम खुलासे किए

नई दिल्ली:

किसान आंदोलन से संबंधित टूलकिट मामले में खुलासा करते हुए दिल्‍ली पुलिस ने कहा है कि दिशा रवि, निकिता जैकब और शांतनु ने टूलकिट बनाई और दूसरों के साथ शेयर किया. टूलकिट केस में दिल्‍ली पुलिस साइबर सेल के जॉइंट कमिश्नर प्रेमनाथ ने कहा, 'जैसा कि हम जानते हैं कि 26 जनवरी को बड़े पैमाने हिसा हुई. 27 नवंबर से किसान आंदोलन चल रहा था. 4 फरवरी को हमें टूलकिट के बारे में जानकारी मिली जो कि खलिस्तानी सगठनों की मदद से बनाया था.' पुलिस के अनुसार, दिशा ने  यह डॉक्‍यूमेंट क्‍लाइमेट एक्टिविस्‍ट ग्रेटा थनबर्ग के साथ शेयर किए थे. 

ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट केस में एक गिरफ्तारी, दो के खिलाफ गैर-जमानती वारंट, पढ़ें अबतक के अपडेट्स

उन्‍होंने बताया कि 9 फरवरी को निकिता के खिलाफ  सर्च वारंट जारी हुआ जबकि 11 फरवरी को निकिता के यहां सर्च हुआ. इस दौरान हमें काफी सारे संवेदनशील सबूत मिले. निकिता से लिखित में लिया गया कि वो 12 फरवरी को मौजूद रहेगी.11 जनवरी को जो ज़ूम मीटिंग हुई जिसमें खालिस्तानी ग्रुप कनाडियन महिला पुनीत के जरिये दिशा, निकिता, शांतनु और दूसरे लोगों को जोड़ा गया. टूलकिट में जैसा एक्शन प्लान था वैसा ही किया गया. मुंबई पुलिस और बेंगलुरु पुलिस को जानकारी देकर सही तरीके से पूरा प्रोसीजर फॉलो किया गया. एक वोट्स ग्रुप से ये लोग जुड़े थे जो 6 दिसंबर को बनाया गया. दिशा ने टूलकिट ग्रेटा को टेलीग्राम से भेजा.

कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी ने दिशा रवि की गिरफ्तारी का किया विरोध, कहा-जहां हमें लड़ना चाहिए वहां..

दिल्‍ली पुलिस के अनुसार, दिशा के मोबाइल से काफी सबूत मिले हैं लेकिन काफी डेटा डिलीट भी मिली. शांतनु और दिशा एक्सआर नाम के एनजीओ से जुड़े हैं. पीटर फेडरिक ने ये प्लान किया कि किसे हैशटैग करना है, किसे फॉलो करना है और कब क्या ट्वीट कराना है. 2005 से हम इन्हें जानते हैं. टूलकिट एक ऐसा डॉक्यूमेंट था,जो कुछ लोगों के बीच शेयर होना था लेकिन ग्रेटा ने गलती से ये ट्वीट कर दिया. पुलिस के अनुसार, scrapfarmersact@gmail.com का एडमिन शांतनु था.

दिशा रवि ने खुद दिए जज के सवालों के जवाब, जानिए क्यों?

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
यूपी में अब प्रतियोगी परीक्षाएं एक नहीं बल्कि चार एजेंसियां कराएंगी
दिशा रवि, निकिता जैकब, शांतनु मुलुक और अन्‍य के बीच गणतंत्र दिवस हिंसा के पहले हुई थी 'जूम काल' : दिल्‍ली पुलिस
क्या 'सियासी पिच' पर अपने बेटे को लॉन्च करेंगे नीतीश कुमार? JDU के मंत्री ने बताई अंदर की बात
Next Article
क्या 'सियासी पिच' पर अपने बेटे को लॉन्च करेंगे नीतीश कुमार? JDU के मंत्री ने बताई अंदर की बात
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;