विज्ञापन
Story ProgressBack

Power Cut in Delhi NCR: क्या दिल्ली-NCR में छा जाएगा अंधेरा? हीटवेव के चलते कितनी बढ़ी पावर डिमांड

Power Cut in Delhi NCR: दिल्ली में मंगलवार दोपहर 3.33 बजे पीक पावर डिमांड 7717 मेगावाट तक पहुंच गई थी. यह दिल्ली के इतिहास में पहली बार हुआ है. इससे पहले 29 जून 2022 को 7695 मेगावाट की पीक पावर डिमांड थी. मई 2024 में हर दिन दिल्ली की अधिकतम बिजली की मांग मई 2023 की तुलना में ज्यादा है.

Read Time: 7 mins
Power Cut in Delhi NCR: क्या दिल्ली-NCR में छा जाएगा अंधेरा? हीटवेव के चलते कितनी बढ़ी पावर डिमांड
नई दिल्ली:

दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत में इन दिनों जबरदस्त गर्मी पड़ रही है. बढ़ते तापमान और हीटवेव से लोग परेशान हैं. अब बिजली कटौती ने भी दिन का चैन और रात की नींद खराब करके रखी है. दरअसल, गर्मी से बचने के लिए एसी-कूलर और पंखे दिन रात चल रहे हैं. इसकी वजह से दिल्ली में पावर डिमांड बढ़ गई है. दिल्ली में बुधवार को पहली बार बिजली की मांग 8000 MW हुई. बुधवार दोपहर 3:42 बजे पीक पावर डिमांड 8,000 MW थी. ये अब तक का हाइएस्ट पॉइंट है. रिकॉर्ड लेवल पर पावर डिमांड होने से बिजली कटौती का संकट बढ़ गया है. दिल्ली के कुछ इलाकों समेत एनसीआर के नोएडा, गुरुग्राम और गाजियाबाद के कुछ हिस्सों में भी इन दिनों बिजली कटौती से लोग परेशान हैं.

दिल्ली में बिजली की कितनी खपत?
दिल्ली में मंगलवार दोपहर 3.33 बजे पीक पावर डिमांड 7717 मेगावाट तक पहुंच गई थी. यह दिल्ली के इतिहास में पहली बार हुआ है. इससे पहले 29 जून 2022 को 7695 मेगावाट की पीक पावर डिमांड थी. मई 2024 में हर दिन दिल्ली की अधिकतम बिजली की मांग मई 2023 की तुलना में ज्यादा है.  पिछले साल मई के पहले 20 दिनों में, दिल्ली की अधिकतम बिजली की मांग 5781 मेगावाट थी. मई 2023 में उच्चतम बिजली की मांग 23 मई को 6916 मेगावाट दर्ज की गई थी. दक्षिणी और पश्चिमी दिल्ली के BRPL इलाके में अधिकतम बिजली की मांग 2023 में 3250 मेगावाट और 2022 की गर्मियों के दौरान 3389 मेगावाट थी. वहीं, 2024 की गर्मियों के दौरान बिजली की मांग लगभग 3680 मेगावाट तक पहुंचने की उम्मीद है.  

दिल्ली-यूपी में बढ़ेगा हीटवेव का सितम, 44 पार जाएगा तापमान, IMD ने दिया 5 दिन के मौसम का अपडेट

8000 मेगावाट तक पहुंचेगी डिमांड
दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने बुधवार को मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि दिल्ली में सबसे ज्यादा पावर डिमांड जुलाई और अगस्त के महीने में ज्यादा बढ़ जाती है. मई के महीने में ही पावर पीक 7717 तक पहुंच गया है. इसके अंदाजा लगाया जा सकता है कि जुलाई और अगस्त में यह पीक कितनी बढ़ सकती है. उन्होंने बताया कि मई के महीने की अपेक्षा जुलाई अगस्त में 20 प्रतिशत तक डिमांड बढ़ जाती है. इससे स्पष्ट है कि इस साल यह डिमांड 8 हजार मेगावाट से ऊपर जा सकती है.

इन इलाकों में गुल रही बिजली
दिल्ली के कुछ इलाकों में सोमवार को 10 घंटे की बिजली कटौती हुई. दरअसल, मांग बढ़ने के कारण अंडरग्राउंड लाइन में फॉल्ट हो गया. इससे दिल्ली रोड फर्स्ट और सेकेंड पावर हाउस में सप्लाई ठप हो गई. यहां से 50 हजार उपभोक्ताओं को सप्लाई दी जाती है. आवास विकास, अर्जुन नगर , दिल्ली रोड, गढ़ रोड, सिकंदर गेट, कोठी गेट, तगासराय, सर्राफा बाजार, फुलगढ़ी, मोती कॉलोनी, अपना घर कॉलोनी, फुलगढ़ी, मोती कॉलोनी, कोटला, कबाड़ी बाजार, नूरबफान और नई आबादी इलाके में बिजली कटौती रही. 

गाजियाबाद में लगातार लग रहे पावर कट
गाजियाबाद में भी बिजली कटौती से बुरा हाल है. यहां पारा 44 डिग्री पार कर चुका है. लोनी और साथ लगते इलाकों में 14 घंटे तक कट लग रहे हैं. बिजली की डिमांड 1600 मेगावाट पार कर चुकी है. ओवरलोडिंग के चलते 20 से अधिक ट्रांसफार्मर फुंक चुके हैं. 25 से अधिक सेक्टर बिजली की कमी से जूझ रहे हैं. न्यूज एजेंसी PTI की रिपोर्ट के मुताबिक, ग्रेटर नोएडा में पाली के 400 केवी सबस्टेशन में फॉल्ट होने की बात सामने आई है. 

उत्तर भारत में गर्मी ने सारे रिकॉर्ड तोड़े, दिल्ली में Severe Heat wave अलर्ट, आसमान से बरस रही आग, जानें क्या करें, क्या नहीं

पावर कट से जूझ रहे नोएडा के ये सेक्टर 
न्यूज एजेंसी PTI की रिपोर्ट के मुताबिक, नोएडा के सेक्टर-11, 12, 19, 20, 22, 27, 31, 34, 40, 41, 42 में बिजली की समस्या है. वहीं, सेक्टर-45, 46, 48, 49, 51, 55, 56, 61, 82, 93, 99, 100, 104, 105, 110, 119, 122 और 135 के अलावा गांवों में भी स्थिति बेहद खराब है. ग्रेटर नोएडा अब तक 'नो पावर कट जोन' के नाम से जाना जाता था, यहां भी कई घंटे की बिजली कटौती देखने को मिल रही है. इसके विरोध में लोग सड़कों पर भी उतर रहे हैं.

गुरुग्राम में 10-12 पावर कट
गुरुग्राम के कई इलाकों में घंटों तक बिजली गुल रहने से आम लोगों को खासा परेशानी का सामना करना पड़ा. ऐसे में लोगों का गुस्सा सोशल मीडिया पर फूटा और लोगों ने सोशल मीडिया पर अपनी भड़ास निकाली. गुरुग्राम मेफ़ील्ड गार्डन सोसायटी में सोमवार रात 11 बजे से सोमवार सुबह लगभग 6 बजे तक बिजली गुल रही. इसी तरह से वाटिका इंडिया नेक्स्ट में 9 घंटे तक बिजली गुल रही. सेक्टर 79 के मैपस्को माउंटविले में सोमवार रात 10 बजे से मंगलवार 8 बजे तक बिजली गुल रही. अभी भी ऐसे कई इलाके हैं जहां बिजली नहीं आई है. 

दिल्ली समेत उत्तर भारत में हीटवेव का अलर्ट
दिल्ली में हीटवेव का कहर है. पारा हर दिन अपना ही रिकॉर्ड तोड़ रहा है. पूरे देश में मंगलवार का दिन इस सीजन में अब तक का सबसे गर्म दिन रिकॉर्ड हुआ. दिल्ली में मंगलवार को तापमान 47.8 डिग्री तक पहुंच गया. साल 2000 के बाद देश की राजधानी का तापमान (Delhi Temperature) इतना ज्यादा रिकॉर्ड हुआ है. मौसम विभाग (IMD) ने दिल्ली में अगले 5 दिनों के लिए हीटवेव का रेड अलर्ट जारी किया है. दिल्ली के साथ ही उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में सोमवार को औसत अधिकतम तापमान 45 डिग्री के पार रहा. इन राज्यों में भी हीटवेव का अलर्ट है. जबकि केरल के कुछ हिस्सों में बारिश होने के आसार हैं.

सालों के रिकॉर्ड तोड़ रही गर्मी, खतरनाक हीट वेव अलर्ट जारी, हीट वेव से जुड़े अहम 10 सवालों के जवाब

IMD ने दिया अगले 5 दिनों का वेदर अपडेट
मौसम विभाग के मुताबिक, अगले पांच दिन यानी 22 से 26 मई तक दिल्ली में ऐसी ही गर्मी रहेगी. कई इलाकों में हीटवेव चलने का अलर्ट है. 22 मई को पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड, ओडिशा में हीटवेव का अलर्ट है. जबकि तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, लक्षद्वीप, निकोबार, पश्चिम बंगाल और सिक्किम में तेज बारिश होगी. गोवा में उमसभरी गर्मी होगी, राजस्थान में गर्म रात की संभावना है. हीटवेव के दौरान ट्रैफिक जाम में फंसे लोग खासे परेशान दिखे.

पश्चिम बंगाल में तेज हवा और बिजली गिरने का अनुमान
IMD ने बताया कि 23 मई को बिहार, गोवा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल में तेज हवा और बिजली गिरने का अनुमान है. दूसरी ओर,  राजस्थान के पूर्वी इलाकों में रात में तापमान बढ़ेगा और हीटवेव का भी अंदेशा जताया गया है. मौसम विभाग ने पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड, ओडिशा में हीटवेव का अलर्ट दिया है.

मौसम विभाग के मुताबिक, 24 मई को उत्तर प्रदेश और राजस्थान में रात में तेज गर्मी का अनुमान है. इस दौरान दिल्ली और पंजाब में हीटवेव चलेगी. केरल और पश्चिम बंगाल में समुद्री तटों के आसपास के शहरों में 40 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान भी जताया गया है. वहीं, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, अंडमान और निकोबार, तमिलनाडु, पुडुचेरी, केरल और लक्षद्वीप में भारी बारिश होने के आसार हैं. 25 और 26 मई को दिल्ली में भीषण गर्मी और हीटवेव का अलर्ट है. यूपी के वाराणसी, कानपुर, आगरा समेत कुछ हिस्सों में तापमान 44 के पार जाएगा. हीटवेव का भी अलर्ट है.
 

दिल्ली में इस सीजन का सबसे गर्म दिन रहा मंगलवार, राजस्थान-यूपी और गुजरात में भी हीटवेव का अलर्ट

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
7 राज्‍य... 6 महीने... 38000 अग्निकांड : भीषण गर्मी में शहर से जंगल तक नहीं थम रहे आग लगने के मामले
Power Cut in Delhi NCR: क्या दिल्ली-NCR में छा जाएगा अंधेरा? हीटवेव के चलते कितनी बढ़ी पावर डिमांड
गृह मंत्री अमित शाह ने J&K की सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की, 16 जून को बुलाई हाईलेवल मीटिंग
Next Article
गृह मंत्री अमित शाह ने J&K की सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की, 16 जून को बुलाई हाईलेवल मीटिंग
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;