Video : सियाचिन पर तैनात जवानों ने दुनिया के सबसे ऊंचे युद्धक्षेत्र में मनाया स्वतंत्रता दिवस

Independence Day Celebration : सियाचिन योद्धाओं ने स्वतंत्रता दिवस 2022 को दुनिया के सबसे ऊंचे युद्धक्षेत्र में मनाया." संस्कृति मंत्रालय ने भी वीडियो शेयर करते हुए लिखा, 'हमारे बहादुर भारतीय सेना के जवान सियाचिन ग्लेशियर पर तिरंगा फहराकर और राष्ट्रगान गाकर देश का 76वां स्वतंत्रता दिवस मना रहे हैं.

Video : सियाचिन पर तैनात जवानों ने दुनिया के सबसे ऊंचे युद्धक्षेत्र में मनाया स्वतंत्रता दिवस

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो

लेह:

76वें स्वतंत्रता दिवस को पूरे भारत में बड़े ही उत्साह और उमंग के साथ मनाया गया. इस मौके पर पूरा देश आजादी के जश्न में डूबा दिखा.  इस विशेष अवसर पर हर व्यक्ति राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे से जुड़कर स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति अपना आभार प्रकट कर रहा है. वहीं देश की सरहद की रक्षा करने वाले जवानों ने भी पूरे जोश के साथ स्वतंत्रता दिवस मनाया. दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध स्थल सियाचिन में हजारों की फीट की ऊंचाई पर सैनिकों ने देश का झंडा बुलंद किया है. तिरंगे लहराने के बाद जवानों ने राष्ट्रगान गाया.

भारतीय सेना की फायर एंड फ्यूरी कोर ने ट्विटर पर वीडियो साझा किया जिसमें सियाचिन के योद्धाओं को राष्ट्रीय ध्वज फहराते हुए दिखाया गया है. एक ट्वीट में लिखा, "'सबसे ऊंचे युद्धक्षेत्र में तिरंगा'.  सियाचिन योद्धाओं ने स्वतंत्रता दिवस 2022 को दुनिया के सबसे ऊंचे युद्धक्षेत्र में मनाया." संस्कृति मंत्रालय ने भी वीडियो शेयर करते हुए लिखा, 'हमारे बहादुर भारतीय सेना के जवान सियाचिन ग्लेशियर पर तिरंगा फहराकर और राष्ट्रगान गाकर देश का 76वां स्वतंत्रता दिवस मना रहे हैं.

यहां देखिए वीडियो-

ITBP के जवानों ने भी सिक्किम में 18,800 फीट की ऊंचाई पर स्वतंत्रता दिवस मनाया, जो पर्वतारोहण के क्षेत्र में एक अनूठा रिकॉर्ड है. ITBP के जवानों ने एक साथ 75 चोटियों को फतह किया और 'अमृतरोहण' के हिस्से के रूप में राष्ट्रीय ध्वज फहराया. इसी तरह, ITBP के जवानों ने लद्दाख में पैंगोंग त्सो के तट और अरुणाचल प्रदेश के तवांग क्षेत्र में स्वतंत्रता के 75 वर्ष के अवसर पर आजादी का जश्न मनाया.

ये भी पढ़ें : 'भारत वैश्विक मंच पर प्रमुख भूमिका निभा रहा...' : श्रीलंका के राष्ट्रपति ने की पंडित जवाहर लाल नेहरू की प्रशंसा

भारत ने इससे पहले सोमवार को 76वां स्वतंत्रता दिवस मनाया. जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के लाल किले पर तिरंगा फहराया. 76वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए, प्रधान मंत्री ने भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार को सबसे बड़ी चुनौती बताते हुए देशवासियों से सहयोग मांगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि देश को अपनी मानसिकता को "भाई-भतीजावाद" और परिवारवाद (भाई-भतीजावाद) से खत्म करने की जरूरत है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: आजादी के 75 साल बाद छत्तीसगढ़ के इस गांव में पहली बार फहराया तिरंगा | पढ़ें