चीन में कोरोना केसों में आए उछाल जैसी स्थिति से बचने के लिए भारत ने किए एहतियाती उपाय, 10 बातें

चीन और अमेरिका में कोरोना के बढ़ते मामलों ने भारत सहित दुनियाभर में चिंता बढ़ा दी है. केंद्र सरकार ने गुरुवार को संसद में बताया कि एयरपोर्ट्स पर आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के कोविड टेस्ट के लिए रैंडम सैंपलिंग शुरू कर दी गई है. चीन में कोरोना के केसों में आए उछाल को ध्‍यान में रखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को समीक्षा बैठक की.

चीन में कोरोना केसों में आए उछाल जैसी स्थिति से बचने के लिए भारत ने किए एहतियाती उपाय, 10 बातें

एयरपोर्ट्स पर आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के कोविड टेस्ट के लिए रैंडम सैंपलिंग शुरू की गई है

नई दिल्‍ली : चीन और अमेरिका में कोरोना के बढ़ते मामलों ने भारत सहित दुनियाभर में चिंता बढ़ा दी है. केंद्र सरकार ने गुरुवार को संसद में बताया कि एयरपोर्ट्स पर आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के कोविड टेस्ट के लिए रैंडम सैंपलिंग शुरू कर दी गई है. चीन में कोरोना के केसों में आए उछाल को ध्‍यान में रखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को समीक्षा बैठक की.

मामले से जुड़ी 10 खास बातें

  1. स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बताया कि दो फीसदी यात्रियों को सैंपल देने होंगे. उन्हें जाने दिया जाएगा और आरटी-पीसीआर जांच की जाएगी. प्रोटोकॉल कहता है कि यदि कोई पॉजिटिव मामला आता है, तो उनसे संपर्क किया जाएगा और उपचार के बारे में निर्णय लिया जाएगा.

  2. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा, "जिन देशों से नए मामले सामने आए हैं, वहां से उड़ानें बंद करने की फिलहाल सरकार की कोई योजना नहीं है. मंत्री ने कहा 'हमारे यहां चीन से या उसके लिए कोई सीधी उड़ान नहीं है. यह हमारा प्रयास है कि वायरस को भारत में आने से रोका जाए और यात्रा को भी बाधित नहीं किया जाना चाहिए.'

  3. मास्क और अन्य सख्त उपायों के बारे में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि चीन में केसों में आई हालिया तेजी के मद्देनजर राज्यों को प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित करने की सलाह दी गई है, लेकिन अभी तक कोई आदेश जारी नहीं किया गया है. 

  4. इसके साथ थी वायरस के सभी स्‍वरूपों (New variants) को समझने के लिए केंद्र सरकार ने सभी राज्‍यों से पॉजिटिव मामलों की जीनोम सीक्‍वेंसिंग भी सुनिश्चित करने को कहा है.

  5. चीन में कोरोना केमामलों में वृद्धि के मद्देनजर देश में बुधवार को दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने एक्‍सपर्ट्स ग्रुप के साथ बैठक की थी. बैठक के बाद उन्होंने कहा कि सरकार हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है और फिलहाल घबराने की जरूरत नहीं है.

  6. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि आने वाले फेस्टिव सीजन को देखते हुए राज्यों को सतर्क रहने और मास्क-सेनेटाइजर और सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में जागरूकता फैलाने को कहा गया है. 

  7. ओमिक्रॉन का BF.7 वेरिएंट अमेरिका, ब्रिटेन सहित बेल्जियम, जर्मनी, फ्रांस और डेनमार्क जैसे यूरोपीय देशों में पाया गया है.

  8. विशेषज्ञों के अनुसार, कोरोना का BF.7 वेरिएंट तेज़ी से फैलता है और इसके लक्षण बुखार, खांसी, गले में खराश, थकान और डायरिया हैं. चीन में BF.7 वेरिएंट के चलते ही बड़े पैमाने पर लोग अस्पताल पहुंच रहे हैं.

  9. भारत में इस समय सार्वजनिक समारोहों या पर्यटन स्थलों के लिए कोई कोविड-19 प्रोटोकॉल लागू नहीं है. कोविड नेशनल टास्क फोर्स की बैठक भी अप्रैल महीने से अब तक नहीं हुई है. इसके कई सदस्य रिटायर हो चुके हैं. साल 2020 में टास्क फोर्स की 108 मीटिंग, 2021 में 44 और इस साल केवल 7 बैठक हुई हैं. 

  10. केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मांडविया ने कोरोना के मद्देनजर कांग्रेस को 'भारत जोड़ो' यात्रा को स्थगित करने की सलाह दी है. उन्‍होंने राहुल गांधी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को चिट्ठी लिखकर आग्रह किया है कि यात्रा में कोरोना नियमों का पालन किया जाए या फिर इसे कुछ वक्त के लिए स्थगित कर दिया जाए.