विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Aug 25, 2011

हजारे पक्ष ने फिर लिखी पीएम को चिट्ठी

Read Time: 2 mins
नई दिल्ली: अन्ना हजारे पक्ष ने गुरुवार को लोकपाल विधेयक के मुद्दे पर अपना एक संदेश प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पास भिजवाया और अपने रुख में नरमी के संकेत दिए। हजारे पक्ष की कोर समिति के मुख्य सदस्यों हजारे, अरविंद केजरीवाल, प्रशांत भूषण, शांति भूषण और मनीष सिसोदिया सहित अन्य प्रमुख कार्यकर्ताओं की आज रामलीला मैदान में करीब 50 मिनट बैठक चली। बैठक के बाद मनीष सिसोदिया ने कहा कि आज संसद में लोकपाल और हजारे का अनशन का मामला उठने और इस संबंध में प्रधानमंत्री द्वारा वक्तव्य रखे जाने पर हजारे ने प्रसन्नता जाहिर की। सिसोदिया ने कहा कि केंद्रीय मंत्री विलासराव देशमुख ने हजारे से कुछ देर पहले बातचीत की और उनके जरिए प्रधानमंत्री के पास संदेश भेजा है। उन्होंने कहा कि हमें अब प्रधानमंत्री से जवाब मिलने का इंतजार है, इसके बाद ही आगे की रणनीति तय की जाएगी। हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि आखिर हजारे ने प्रधानमंत्री के पास क्या संदेश भेजा है। हालांकि यह बताया जाता है कि हजारे ने प्रधानमंत्री को भेजे अपने संदेश में इन्हीं मुद्दों को दोहराया है कि केंद्र में लोकपाल के साथ लोकायुक्त का गठन हो, विभागों में काम समयसीमा पर तय कराने के लिए सिटीजन चार्टर बनाया जाए और निचले स्तर की नौकरशाही को भी इसमें शामिल किया जाए। बैठक के पहले हजारे से आज आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर की दो बार मुलाकात हुई। इसके साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व विचारक गोविंदाचार्य ने भी हजारे के अन्य साथियों से मुलाकात की थी।

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Explainer : 'हमारे बारह' को सिनेमाघरों तक पहुंचने का इंतजार, जानिए फिल्‍म को लेकर क्‍या है विवाद
हजारे पक्ष ने फिर लिखी पीएम को चिट्ठी
बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद, हथियार के बल पर एक्सिस बैंक से लूटे 17 लाख रुपये
Next Article
बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद, हथियार के बल पर एक्सिस बैंक से लूटे 17 लाख रुपये
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;