विज्ञापन
Story ProgressBack

आज नोएडा के फ्लैट में लगी आग: प्रचंड गर्मी से फट रहे AC! फायर ब्रिगेड की '24 घंटे' वाली सलाह पढ़ लीजिए

AC Blast : नोएडा सहित देश भर में एसी से आग लगने की घटनाएं देखने को मिल रही हैं. इस तरह के हादसों से बचने के लिए क्या उपाए अपनाए जा सकते हैं, इस रिपोर्ट में पढ़ें...

Read Time: 3 mins
आज नोएडा के फ्लैट में लगी आग: प्रचंड गर्मी से फट रहे AC! फायर ब्रिगेड की '24 घंटे' वाली सलाह पढ़ लीजिए
AC Blast : नोएडा के सेक्टर 100 में स्थित लोटस ब्लूबर्ड सोसाइटी में एयर कंडीशनर फटने से लगी आग ने भयंकर रूप ले लिया.

AC Blast : देश के विभिन्न हिस्सों में पड़ रही भीषण गर्मी की वजह से बिजली की अधिकतम मांग रिकॉर्ड 246.06 गीगावाट पर पहुंच गई है. गर्मी से राहत के लिए घरों एवं दफ्तरों में एयर कंडीशनर (AC) और कूलर का इस्तेमाल बढ़ने से बिजली की खपत बढ़ रही है. मगर यही एसी घर या दफ्तर में आग लगने का कारण भी बन रहे हैं. नोएडा के सेक्टर 100 में स्थित लोटस ब्लूबर्ड सोसाइटी में एयर कंडीशनर फटने से पूरा का पूरा फ्लैट भयानक आग की चपेट में आ गया. इसी तरह 27 मई को मुंबई के बोरीवली वेस्ट के एक फ्लैट में आग से पूरा फ्लैट जल कर राख हो गया. 27 मई को ही हरियाणा के हिसार में एक अस्पताल में आग लग गई. आग लगने का कारण एसी में ब्लास्ट था. रोजाना इसी तरह की घटनाएं अलग-अलग इलाकों में हो रही हैं. तस्वीरों के साथ देखें AC ब्लास्ट से कैसे बचें?

मुंबई के बोरीवली वेस्ट के एक फ्लैट में आग लगने की घटना भी बेहद भयावह है. इस तरह की घटनाएं लापरवाही या अनदेखी के कारण ही होती हैं. अगर एसी चलाते समय कुछ सामान्य बातों का ख्याल रखा जाए तो ऐसे हादसों से बचा जा सकता है.

नोएडा फायर पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि इस गर्मी के सीजन में 10 से 12 एसी फटने की सूचनाएं मिली हैं. घर से लेकर दफ्तरों तक में  हादसे हुए हैं. अधिकारी ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि एसी की सर्विस लगातार कराते रहें. 24 घंटे एसी न चलाएं. एसी को ब्रेक दें. मतलब 3-4 घंटे एसी चलाने के बाद कुछ देर बंद कर दें. घर से बाहर निकलते समय जलता हुआ दीपक या फिर पावर सप्लाई ऑन छोड़कर न जाएं. अधिकारी ने बताया कि जल्द ही इस संबंध में गाइडलाइन भी जारी की जाएगी.

  • घर या दफ्तर की वायरिंग कराते समय हमेशा ब्रांडेड वायर डलवाएं. 
  • एसी लगवाते समय उसकी पावर कैपेसिटी और अपने घर या दफ्तर के पावर लोड का पता लगा लें.
  • एसी बगैर स्टैबलाइजर न चलाएं.
  • एसी का कम्प्रेशर किसी छांव वाली जगह पर लगवाएं
  • गर्मी की शुरूआत में ही एसी की सर्विस जरूर कराएं.
  • अगर एसी से किसी तरह की आवाज आए या स्पार्क करे तो तुरंत जांच कराएं.
  • एसी के पास पर्दे आदि न लगाएं.
  • एसी को लगातार न चलाएं.
  • कोशिश करें कि 5-6 घंटे एसी चलाने के बाद उसे कुछ देर बंद कर दें.
Latest and Breaking News on NDTV

260 गीगावाट तक पहुंच सकती है मांग
बिजली मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, बिजली की अधिकतम मांग या दिन में सबसे अधिक आपूर्ति बुधवार को 246.06 गीगावाट (एक गीगावाट बराबर 1,000 मेगावाट) दर्ज की गई, जो इस साल गर्मी के मौसम में सबसे अधिक है. इससे पहले मंगलवार को बिजली की अधिकतम मांग इस सत्र में 237.94 गीगावाट के उच्चस्तर पर पहुंच गई थी. अब तक का सर्वाधिक बिजली खपत रिकॉर्ड सितंबर, 2023 में 243.27 गीगावाट का था. मंत्रालय ने इस साल गर्मी में बिजली की अधिकतम मांग 260 गीगावाट तक पहुंचने का अनुमान जताया है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
LIVE : वाराणसी में PM मोदी, किसानों को दे रहे हैं 20,000 करोड़ की सौगात
आज नोएडा के फ्लैट में लगी आग: प्रचंड गर्मी से फट रहे AC! फायर ब्रिगेड की '24 घंटे' वाली सलाह पढ़ लीजिए
BJP नेता और केंद्रीय मंत्री सुरेश गोपी ने इंदिरा गांधी को बताया "मदर ऑफ इंडिया"
Next Article
BJP नेता और केंद्रीय मंत्री सुरेश गोपी ने इंदिरा गांधी को बताया "मदर ऑफ इंडिया"
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;