विज्ञापन
Story ProgressBack

पूर्वी लद्दाख में पीछे हटेंगी भारत-चीन की सेनाएं, लेफ्टिनेंट कमांडर स्तर की बैठक में निर्णय; पढ़ें 10 अहम बातें

भारत चीन तनाव के बीच 22 जून को भारत और चीन के मध्य लेफ्टिनेंट कमांडर स्तर के अधिकारियों की बातचीत हुई. दोनों सेनाओं के उच्च स्तर पर हुई यह बातचीत बहुत ही बेहतर माहौल में हुई.

?????? ?????? ??? ???? ?????? ????-??? ?? ??????, ?????????? ?????? ???? ?? ???? ??? ??????; ????? 10 ??? ?????
पूर्वी लद्दाख में अपनी-अपनी सेनाओं को पीछे हटाने पर बनी भारत और चीन में सहमति (प्रतिकात्मक तस्वीर)
नई दिल्ली:

भारत चीन तनाव के बीच 22 जून को भारत और चीन के मध्य लेफ्टिनेंट कमांडर स्तर के अधिकारियों की बातचीत हुई. दोनों सेनाओं के उच्च स्तर पर हुई यह बातचीत बहुत ही बेहतर और सकारात्मक माहौल में हुई. इस बातचीत में सेनाओं की वापसी (disengage) की सहमति बनी है. सूत्रों के मुताबिक, पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों की सेनाएं पीछे हटेंगी. सेना के सूत्रों की ओर से मंगलवार को कहा गया है कि सोमवार को दोनों देशों की ओर से गलवान घाटी में हुई झड़प और संघर्ष के दूसरे मुद्दों के लेकर लेफ्टिनेंट कमांडर स्तर पर बातचीत हुई. 

  1. सेना के सूत्रों ने जानकारी दी है कि लेफ्टिनेंट कमांडर स्तर पर हुई बातचीत में दोनों देशों ने अपनी-अपनी सेनाओं को पीछे हटाने पर सहमत हुए हैं. 
  2. भारत-चीन तनाव के बीच आर्मी चीफ एम एम नरवणे लद्दाख जाएंगे और गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हुई झड़प में घायत हुए भारतीय जवानों से मुलाकात करेंगे. यही नहीं, सेना की तैयारियों का जायजा भी लेंगे.
  3. इस बीच, अमेरिकी खुफिया विभाग ने दावा किया है कि गलवान घाटी में भारत-चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प एक सुनियोजित साजिश थी. अमेरिकी खुफिया विभाग का दावा है कि चीन की ओर से ही भारतीय सैनिकों पर हमले का आदेश दिया गया था. इसमें सबसे बड़ा हाथ चीन के सबसे ताकतवर जनरल झाओ जोंगकी का है. वह वेस्टर्न कमांड थिएटर का प्रमुख है. उसी ने चीनी सेना को गलवन घाटी में हमले को अंजाम देने का आदेश दिया था.  
  4. पूर्वी लद्दाख में भारतीय सैनिकों के बीच हिंसक संघर्ष के करीब एक सप्‍ताह बाद चीन की सेना ने स्‍वीकार किया है कि उनका कमांडिंग ऑफिसर इस दौरान मारा गया था. सूत्रों के अनुसार, चीनी सेना की ओर से यह बात दोनों देशों के बीच सैन्‍य स्‍तर की बातचीत के दौरान सोमवार को स्‍वीकार की गई. 
  5. पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून को चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प में भारतीय सेना के एक कर्नल सहित 20 सैन्यकर्मियों की जान गई थी. 
  6. झड़प में चीनी पक्ष के करीब 45 सैनिकों के मारे जाने या बुरी तरह से घायल होने की खबर सामने आई थी. हालांकि, चीन ने हिंसक संघर्ष बाद अपने मारे गए या घायल सैनिकों की संख्‍या के बारे में कोई जानकारी नहीं दी थी.
  7. इस घटना के बाद दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर है. भारत में चीनी सामनों का बहिष्कार करने की मुहिम भी शुरू हो गई है और चीन के खिलाफ आम जन भी गुस्से में है. 
  8. चीनी सेना की हरकतों को देखते हुए भारतीय सेना पूरी तरह से मुस्तैद है. सैटेलाइट इमेज से पता चल रहा है कि चीन अपनी सीमा की ओर से कई तरह की हरकतें कर रहा है. जिसे देखते हुए भारतीय एयरफोर्स ने भी अपने फाइटर प्लेनों को तैनात कर दिया है. 
  9. वहीं, भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प का एक और वीडियो सामने आया. यह सिक्किम के दुर्गम इलाके में हुई हाथापाई का वीडियो है.  एक भारतीय जवान चीनी अधिकारी के मुंह पर मुक्का मारता दिख रहा है. 
  10. वीडियो में भारतीय और चीनी सैनिक एक दूसरे से बहस करते और धक्का देते दिखाई दे रहे हैं. दोनों तरफ से 'गो बैक' और 'डोन्ट फाइट' की आवाजें भी आ रही हैं.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
दिल्ली में घर के बाहर बदमाशों ने की फायरिंग तो पुलिस ने पिस्तौल को खिलौना बता पीड़ित को भगा दिया
पूर्वी लद्दाख में पीछे हटेंगी भारत-चीन की सेनाएं, लेफ्टिनेंट कमांडर स्तर की बैठक में निर्णय; पढ़ें 10 अहम बातें
पूजा खेडकर को लेकर क्यों मचा बवाल? ट्रेनी IAS पर गलत दिव्यांगता सर्टिफिकेट देने का आरोप!
Next Article
पूजा खेडकर को लेकर क्यों मचा बवाल? ट्रेनी IAS पर गलत दिव्यांगता सर्टिफिकेट देने का आरोप!
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;