विज्ञापन
Story ProgressBack

जम्मू में पुलिस स्टेशन पर हमला करने के आरोप में 16 सैन्यकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज

कथित तौर पर सैनिकों को पुलिस स्टेशन के अंदर हंगामा करते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर किया जा रहा है. हालांकि सेना ने पुलिस पर हमला करने से इनकार करते हुए इसे "मामूली मतभेद" की घटना बताया है. 

Read Time: 3 mins
जम्मू में पुलिस स्टेशन पर हमला करने के आरोप में 16 सैन्यकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज
जम्मू में 16 सैन्यकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज.

जम्मू-कश्मीर में 16 सैन्यकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. इन सभी सैन्यकर्मियों पर कुपवाड़ा जिले के एक पुलिस स्टेशन (Jammu Police) में पुलिसकर्मियों पर हमला करने का आरोप है. इनमें सेना की तीन अधिकारी भी शामिल हैं. पुलिस ने अधिकारियों समेत सेना के 16 जवानों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, जवानों के हमले में थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. यह घटना मंगलवार देर शाम की बताई जा रही है. कथित तौर पर सैनिकों को पुलिस स्टेशन के अंदर हंगामा करते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर किया जा रहा है. हालांकि सेना ने पुलिस पर हमला करने से इनकार करते हुए इसे "मामूली मतभेद" की घटना बताया है. 

पुलिस संग मारपीट से इनकार 

एक डिफेंस प्रवक्ता ने कहा, "पुलिस और सेना के जवानों के बीच झगड़ा और मारपीट की खबरें गलत हैं. एक ऑपरेशनल मैटर पर पुलिस कर्मियों और एक क्षेत्रीय सेना इकाई के बीच मामूली मतभेदों को सौहार्दपूर्ण ढंग से सुलझा लिया गया है."

सेना के जिन 16 जवानों पर एफआईआर दर्ज की गई है, उनमें लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के तीन अधिकारी भी शामिल हैं. उन पर दंगा करने, हत्या की कोशिश और पुलिस स्टेशन में पुलिसकर्मियों की किडनैपिंग के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. 

सेना के अधिकारियों समेत 16 पर FIR

खबर के मुताबिक, एक मामले की जांच के तहत  पुलिस ने मंगलवार को कुपवाड़ा के बटपोरा गांव में क्षेत्रीय सेना के एक जवान के घर पर छापेमारी की थी. पुलिस FIR के मुताबिक, रात करीब 9:40 बजे सैनिकों ने पुलिस स्टेशन पर धावा बोल दिया और जमकर हंगामा और मारपीट की. सेना के तीन अधिकारियों का नाम भी FIR में शामिल है. साथ ही कहा गया है कि तीन अधिकारियों के नेतृत्व में 160 प्रादेशिक सेना के सशस्त्र और वर्दीधारी जवान अनाधिकृत रूप से पुलिस स्टेशन में घुस गए.  सैनिकों ने, "बिना किसी उकसावे के, पुलिस स्टेशन में मौजूद कर्मचारियों और अधिकारियों पर राइफल बट, लात और डंडों से गंभीर रूप से हमला शुरू कर दिया. 

"हथियार लहराए, पुलिसकर्मियों के फोन छीने"

FIR में लिखा है, " तुरंत वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को जानकारी दी गई. ये अधिकारी पुलिसकर्मियों को बचाने के लिए पुलिस स्टेशन पहुंचे. पुलिस यूनिट्स और सीनियर अधिकारियों को आता देखकर लेफ्टिनेंट कर्नल अंकित सूद, राजू चौहान और निखिल के नेतृत्व में 160 प्रादेशिक सेना के कथित कर्मियों और अधिकारियों ने अपने हथियार लहराए. उन्होंने घायल कर्मियों और SHO पीएस कुपवाड़ा इंस्पेक्टर मोहम्मद इशाक के मोबाइल फोन छीन लिए."

जवानों पर हेड कांस्टेबल की किडनैपिंग का भी आरोप है. एफआईआर में कहा गया है, "भागते समय उन्होंने (सेना के जवानों ने) एमएचसी गुलाम रसूल को किडनैप कर लिया और मौके से फरार हो गए."
 

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
मीठा खाने का मन हुआ तो महिला ने ऑर्डर की आइसक्रीम, कोन में कटी उंगली देख उड़े गए होश
जम्मू में पुलिस स्टेशन पर हमला करने के आरोप में 16 सैन्यकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज
MP% Vs Ministers% : बीजेपी को 60 मंत्री पद, जानें जेडीयू-टीडीपी को कितने प्रतिशत मंत्री पद मिले
Next Article
MP% Vs Ministers% : बीजेपी को 60 मंत्री पद, जानें जेडीयू-टीडीपी को कितने प्रतिशत मंत्री पद मिले
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;