विज्ञापन
Story ProgressBack

सात राज्यों की 10 राज्यसभा सीटों पर जल्द होंगे उपचुनाव, हरियाणा पर टिकी सबकी नजरें

महाराष्ट्र, असम और बिहार में दो-दो सीटें और हरियाणा, मध्य प्रदेश, राजस्थान व त्रिपुरा में एक-एक सीट पर होगा उपचुनाव, लोकसभा चुनाव में राज्यसभा सांसदों की जीत से खाली हुईं सीटें

राज्यसभा की खाली हुईं 10 सीटों के लिए जल्द ही उपचुनाव होंगे.

नई दिल्ली:

Rajya Sabha By-elections : राज्यसभा की 10 सीटों के लिए जल्द ही उपचुनाव होगा. यह सीटें राज्यसभा सदस्यों के लोकसभा सांसद चुने जाने से खाली हुई हैं. वैसे तो सभी 10 सीटों पर एनडीए (NDA) की जीत तय है, लेकिन हरियाणा (Haryana) के उपचुनाव पर सबकी नजरें रहेंगी जहां नायाब सैनी सरकार से निर्दलीयों ने समर्थन वापस ले लिया है. महाराष्ट्र (Maharashtra) में भी उठापटक से इनकार नहीं किया जा सकता.

राज्यसभा के 10 सांसदों ने लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद इस्तीफा दे दिया है. इनमें से सात सीटें बीजेपी की, दो कांग्रेस की और एक सीट आरजेडी के पास थी. राज्यसभा के उपचुनाव अलग-अलग होते हैं, यानी हर सीट पर अलग से मतदान होता है, इसीलिए सत्तारूढ़ दल हमेशा उपचुनाव जीत जाता है. इस लिहाज से सभी 10 सीटों पर बीजेपी और उसके सहयोगियों की जीत पक्की है. इससे राज्यसभा में एनडीए बहुमत के और करीब आ जाएगा.

राज्यसभा में रिक्त सीटें, जिनके सांसद पहुंचे लोकसभा
राज्यराज्यसभा सांसद, जो लोकसभा पहुंचेपार्टीकहां से लोकसभा चुनाव जीते
महाराष्ट्रउदयनराजे भोंसलेभारतीय जनता पार्टीसतारा
महाराष्ट्रपीयूष गोयलभारतीय जनता पार्टीमुंबई उत्तर
असमसर्बानंद सोनोवालभारतीय जनता पार्टीडिब्रूगढ़
असमकामाख्या प्रसाद तासाभारतीय जनता पार्टीकाजीरंगा
बिहारविवेक ठाकुरभारतीय जनता पार्टीनवादासतारा
बिहारमीसा भारतीराष्ट्रीय जनता दलपाटलिपुत्र
हरियाणादीपेंद्र हुड्डाकांग्रेसरोहतक
मध्य प्रदेशज्योतिरादित्य सिंधियाभारतीय जनता पार्टीगुना
राजस्थानके.सी. वेणुगोपालकांग्रेसअलप्पुझा
त्रिपुराबिप्लब देबभारतीय जनता पार्टीत्रिपुरा पश्चिम

पांच राज्यों में एनडीए की जीत पक्की 
दस सीटों में महाराष्ट्र, असम और बिहार में दो-दो सीटें हैं. हरियाणा, मध्य प्रदेश, राजस्थान और त्रिपुरा में एक-एक सीट है. सरकार में होने के कारण एनडीए की असम, बिहार, मध्य प्रदेश, राजस्थान और त्रिपुरा की सीटों पर जीत तय है. महाराष्ट्र में एनडीए के एकजुट रहने पर दोनों सीटों को जीतने में दिक्कत नहीं आएगी, लेकिन हरियाणा का गणित रोचक है.

हरियाणा में उठापटक के आसार
हरियाणा में 90 सीटों की विधानसभा में अभी 87 विधायक हैं और बहुमत का आंकड़ा 44 है. बीजेपी के 41, कांग्रेस के 29, जेजेपी के 10 और पांच निर्दलीय विधायक हैं. एक आईएनएलडी और एक एचएलपी का विधायक है. एक निर्दलीय और एचएलपी का समर्थन बीजेपी को है, इस तरह उसके 43 विधायक हैं. बाकी चार निर्दलीयों में से तीन ने कांग्रेस को समर्थन दे दिया जबकि अन्य निर्दलीय बलराज कुंडु किसी खेमे में नहीं हैं. बीजेपी को जेजेपी के दो विधायकों का समर्थन मिल चुका है. 

कुल मिलाकर हरियाणा में राज्यसभा के इस उपचुनाव में हर विधायक पर नजर होगी. राज्य में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने हैं और ऐसे में विधायकों के पाला बदलने से इनकार नहीं किया जा सकता.

यह भी पढ़ें- 

Explainer : राज्यसभा में कांग्रेस ने बचाई नेता विपक्ष की कुर्सी, NDA पहुंचेगा बहुमत के करीब

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
दिल्ली-नोएडा में झमाझम बारिश, सुबह-सुबह अंधेरा, उमस और चिपचिपी गर्मी से मिलेगी राहत?
सात राज्यों की 10 राज्यसभा सीटों पर जल्द होंगे उपचुनाव, हरियाणा पर टिकी सबकी नजरें
NEET-UG परीक्षा मामला :  छात्रों ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट का आदेश नहीं मानने का आरोप
Next Article
NEET-UG परीक्षा मामला : छात्रों ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट का आदेश नहीं मानने का आरोप
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;