विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Apr 09, 2023

दिल्ली में 15 दिनों तक ठहरा था अतीक का बेटा असद, मददगारों की भी हुई पहचान

दिल्ली में उमेश पाल हत्याकांड के आरोपी अतीक अहमद के बेटे असद की तलाश की जा रही है. अब इस मामले में एक और नया खुलासा हुआ है. बताया जाता है कि अतीक का बेटा असद दिल्ली में 15 दिनों तक ठहरा था.

Read Time: 3 mins
दिल्ली में 15 दिनों तक ठहरा था अतीक का बेटा असद, मददगारों की भी हुई पहचान

उत्तर प्रदेश का उमेश पाल हत्याकांड पिछले काफी दिनों से देशभर में सुर्खियां बटोर रहा है. इस केस में पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी है. इसी सिलसिले में दिल्ली में उमेश पाल हत्याकांड के आरोपी अतीक अहमद के बेटे असद की तलाश की जा रही है. अब इस मामले में एक और नया खुलासा हुआ है. बताया जाता है कि अतीक का बेटा असद दिल्ली में 15 दिनों तक ठहरा था.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने असद को दिल्ली में मदद करने वाले तीन आरोपियों को पकड़ कर यूपी एसटीएफ को सौंप दिया है. उमेश पाल हत्याकांड में आरोपी असद और गुलाम को दो हथियार तस्करों ने दिल्ली में शरण दी थी. पिछले महीने असद छिपने के लिए वह दिल्ली आ गया था, यहां उसके पुराने ड्राइवर व दो हथियार तस्करों ने उसे छिपने में मदद की थी.

पुलिस की ओर से मिली जानकारी के अनुसार वह दक्षिण व पश्चिम दिल्ली के अलावा अन्य जगहों पर 15 दिनों तक छिपा रहा था. बाद में उसने दिल्ली से भी अपना ठिकाना बदल लिया. यूपी एसटीएफ की सूचना पर पिछले महीने दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की काउंटर इंटेलीजेंस यूनिट ने असद के मददगार तीन आरोपितों को आर्म्स एक्ट में मामले में दबोच कर यूपी एसटीएफ को सौंप दिया था.

दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक मार्च के पहले हफ्ते अतीक का बेटा असद दिल्ली में छिपने आया था. यहां रहने के दौरान उसने अपने पुराने ड्राइवर जावेद को पैसे लाने मेरठ भेजा था. जावेद ने मेरठ से पैसा लाकर दिल्ली में असद को सौंप दिया था. वह दिल्ली में रहता है. असद पहले दक्षिण दिल्ली के जामिया नगर में छिपा. उसके बाद पश्चिमी दिल्ली में भी छिपा था.

मामला सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस प्रवक्ता डीसीपी सुमन नलवा ने एक बयान में बताया कि काउंटर इंटेलीजेंस ने पिछले महीने पहले अवतार सिंह नाम के एक हथियार तस्कर को गिरफ्तार किया था. पूछताछ में उसने बताया कि खालिद और जीशान नामक दो लोगों को उसने 10 पिस्टलों की खेप दी थी. इसके बाद गुप्त सूचना के आधार पर 28 मार्च को खालिद और जीशान को शेख सराय से गिरफ्तार कर लिया गया. दोनों के कब्जे से दो पिस्टल व कारतूस बरामद किए गए. दाेनों ने पूछताछ में बताया उन्होंने असद और गुलाम को शरण दी थी. जांच  के बाद 31 मार्च को सेल ने जावेद को भी गिरफ्तार कर लिया. उसने भी बताया कि वह उमेश पाल की हत्या के बाद उसे असद और गुलाम से मिले थे.

ये भी पढ़ें-

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
"मुझे अब सड़कों पर झाड़ू लगानी होगी ?" ममता बनर्जी का नगर निकाय प्रमुखों से तीखा सवाल 
दिल्ली में 15 दिनों तक ठहरा था अतीक का बेटा असद, मददगारों की भी हुई पहचान
बिहार पुलिस को NEET प्रश्न पत्र लीक होने की मिली थी टिप, इस तरह से पकड़े गए थे आरोपी
Next Article
बिहार पुलिस को NEET प्रश्न पत्र लीक होने की मिली थी टिप, इस तरह से पकड़े गए थे आरोपी
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;