विज्ञापन
Story ProgressBack

300 करोड़ के लिए अफसर बहू बनी हत्यारिन, ड्राइवर को 1 cr की सुपारी; कार से ससुर को कुचलवाया

आरोपी का नाम अर्चना मनीष पुट्टेवार है. उसने अपने ससुर पुरुषोतम पुत्तेवार (82) की हत्या की सुपारी सार्थक बागड़े नाम के ड्राइवर को दी थी. हत्या की सुपारी के लिए ड्राइवर को 1 करोड़ रुपये दिए गए थे. पुलिस ने हत्या में शामिल 3 अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है.

300 करोड़ के लिए अफसर बहू बनी हत्यारिन, ड्राइवर को 1 cr की सुपारी; कार से ससुर को कुचलवाया
नागपुर:

महाराष्ट्र के नागपुर जिले में पिछले महीने एक हिट एंड रन मामले में 82 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई थी. अब इस मामले में नया एंगल सामने आया है. पुलिस की जांच में सामने आया कि हिट एंड रन की आड़ में बुजुर्ग की इरादतन हत्या की गई थी. पूरा मामला 300 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी का है. पुलिस के मुताबिक, बुजुर्ग की हत्या की साजिश उसकी बहू ने ही रची थी. ससुर के मर्डर की आरोपी बहू टाउन प्लानिंग डिपार्टमेंट में असिस्टेंट डायरेक्टर है. 

पुलिस के मुताबिक, आरोपी का नाम अर्चना मनीष पुट्टेवार है. उसने अपने ससुर पुरुषोतम पुत्तेवार (82) की हत्या की सुपारी सार्थक बागड़े नाम के ड्राइवर को दी थी. हत्या की सुपारी के लिए ड्राइवर को 1 करोड़ रुपये दिए गए थे. पुलिस ने हत्या में शामिल 3 अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है.

क्या है पूरा मामला?
अर्चना पुत्तेवार 3 साल से गढ़चिरौली के टाउन प्लानिंग डिपार्टमेंट में असिस्टेंट डायरेक्टर है. अर्चना के पति मनीष डॉक्टर हैं. उनकी सास शकुंतला एक ऑपरेशन की वजह से अस्पताल में एडमिट थीं. 

पत्नी ने डिनर नहीं परोसा तो गुस्से में पति ने सिर काट लिया; रात भर शव से उतारता रहा खाल

22 मई 2024 को कार ने कुचला
पुलिस के मुताबिक, 22 मई 2024 को नागपुर के अजनी इलाके में हिट एंड रन का मामला सामने आया था. एक कार पुरुषोत्तम पुत्तेवार को कुचलकर निकल गई थी. घटना के वक्त वो अपनी पत्नी से मिलकर अस्पताल से लौट रहे थे. शुरुआत में यह मामला हिट एंड रन का नजर आ रहा था, लेकिन जब नागपुर पुलिस ने इसकी गहराई से जांच की, तो परतें खुलती गई.

सामने आया 300 करोड़ की प्रॉपर्टी का एंगल
जांच के दौरान पुलिस को जानकारी मिली की पुरुषोत्तम पुत्तेवार की मौत के पीछे 300 करोड़ की प्रॉपर्टी का कनेक्शन है. पुलिस ने अपनी जांच को और आगे बढ़ाया. इस दौरान बहू अर्चना पुत्तेवार शक के घेरे में आ गईं. अर्चना क्लास वन ऑफिसर है. पुलिस की जांच में सामने आया कि उसने प्रॉपर्टी हड़पने के लिए अपने ससुर की हत्या का प्लान बनाया था. इसमें उसके भाई प्रशांत और पीएम पायल ने मदद की थी.

बेवफा पत्नी, गैंगस्टर आशिक और एक पति का इंतकाम, जानें पूरी कहानी

ससुर को मरवाने के लिए खरीदी नई कार 
एक पुलिस अधिकारी ने न्यूज एजेंसी PTI को बताया कि अर्चना पुत्तेवार ने ससुर की हत्या का बाकायदा प्लान बनाया. मर्डर को हिट एंड रन का रूप देने के लिए ड्राइवर को अपने साथ मिलाया. उसे 1 करोड़ रुपये की सुपारी दी. हत्या के लिए नई कार भी खरीदी गई. पुलिस अधिकारी के मुताबिक, आरोपी अर्चना ने कथित तौर पर अपने पति के ड्राइवर बागड़े और दो अन्य आरोपियों नीरज निमजे और सचिन धार्मिक के साथ ससुर की हत्या की साजिश रची. पुलिस ने उन पर आईपीसी और मोटर वाहन अधिनियम के तहत हत्या और अन्य धाराओं का आरोप लगाया है. पुलिस ने दो कार, सोने के जेवर और मोबाइल फोन भी जब्त किए हैं.

विवादास्पद रहा है अर्चना पुत्तेवार का करियर
पुलिस के मुताबिक, गढ़चिरौली टाउन प्लानिंग विभाग के असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में अर्चना पुत्तेवार का कार्यकाल विवादास्पद था. उसके बारे में कई शिकायतें नागपुर के उच्च कार्यालय से लेकर मंत्रालय तक गईं. हालांकि, रसूख के कारण कोई एक्शन नहीं हुआ.

"इसलिए मैंने उसे मार डाला..." : मां ने की 9 साल के बच्चे की गला घोंटकर हत्या

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
संसद का बजट सत्र आज से, 6 बड़े विधेयक होंगे पेश; मुद्दों को लेकर विपक्ष की आक्रामक तैयारी
300 करोड़ के लिए अफसर बहू बनी हत्यारिन, ड्राइवर को 1 cr की सुपारी; कार से ससुर को कुचलवाया
निजी कंपनियों में कन्नड़ भाषियों के लिए आरक्षण से जुड़े विधेयक को कर्नाटक सरकार ने ठंडे बस्ते में डाला
Next Article
निजी कंपनियों में कन्नड़ भाषियों के लिए आरक्षण से जुड़े विधेयक को कर्नाटक सरकार ने ठंडे बस्ते में डाला
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;