जम्मू से श्रीनगर के लिए अमरनाथ यात्रा स्थगित, अलगाववादियों के बंद की वजह से लिया गया फैसला

अलगाववादियों द्वारा बंद का ऐलान करने के बाद कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए जम्मू से श्रीनगर जाने वाले तीर्थयात्रियों की आवाजाही आज स्थगित रहेगी

जम्मू से श्रीनगर के लिए अमरनाथ यात्रा स्थगित, अलगाववादियों के बंद की वजह से लिया गया फैसला

अमरनाथ यात्रा

खास बातें

  • जम्मू से श्रीनगर के लिए अमरनाथ यात्रा स्थगित
  • अलगाववादियों के बंद की वजह से लिया गया फैसला
  • जम्मू -कश्मीर में 13 जुलाई को मनाया जाता है शहीदी दिवस
नई दिल्ली:

अलगाववादियों द्वारा बुलाए गए बंद के कारण शनिवार को अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra) स्थगित कर दी गई और तीर्थयात्रियों को जम्मू से कश्मीर घाटी की ओर जाने की अनुमति नहीं दी गई. पुलिस ने यह जानकारी दी. पुलिस सूत्र ने बताया, 'अलगाववादियों द्वारा बंद का ऐलान करने के बाद कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए जम्मू से श्रीनगर जाने वाले तीर्थयात्रियों की आवाजाही आज स्थगित रहेगी.' साल 1931 में डोगरा महाराजा की सेना द्वारा श्रीनगर सेंट्रल जेल के बाहर गोलीबारी में मारे गए लोगों की याद में जम्मू -कश्मीर में 13 जुलाई को शहीदी दिवस मनाया जाता है.

सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल: संसद के पास ऑडी सवार ने किए स्टंट, तेज रफ्तार में लगाए कई चक्कर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 वहीं, राज्य सरकार इस दिन को 1947 में आजादी के लिए लड़ने वाले स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति सम्मान के तौर पर मनाती है. 1 जुलाई से शुरू हुई अमरनाथ की वार्षिक तीर्थयात्रा में 1.50 लाख से अधिक तीर्थयात्री अब तक बाबा बर्फानी का दर्शन कर चुके हैं. इस वर्ष 15 अगस्त को श्रावण पूर्णिमा के दिन अमरनाथ यात्रा समाप्त होगी. (इनपुट: आईएएनएस)