देश के 10 सबसे वायु प्रदूषित शहरों में 9 बिहार के, कहीं आपका शहर भी तो नहीं? 

वायु प्रदूषण (Air Pollution) का सीओपीडी पर सीधा प्रभाव पड़ता है, वायु प्रदूषण के संपर्क में आने के लगभग तुरंत बाद लोगों को सांस की तकलीफ, खांसी, थूक, सिरदर्द और चेहरे और गले पर सूखापन के लक्षणों का अनुभव होता है.

देश के 10 सबसे वायु प्रदूषित शहरों में 9 बिहार के, कहीं आपका शहर भी तो नहीं? 

देश के 10 सबसे वायु प्रदूषित शहरों में 9 बिहार के हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली में वायु प्रदूषण (Air Pollution) की चर्चा तो अक्सर होती रहती है लेकिन बिहार में भी प्रदूषण विकराल रूप लेता जा रहा है. अक्सर बिहार के कई शहर टॉप 10 में रहते हैं लेकिन आज तो हद है कि देश के 10 सबसे वायु प्रदूषित शहरों में 9 बिहार के हैं. इससे इन शहर के लोगों को सांस लेने में दिक्कत जैसी समस्याओं से दो-चार होना पड़ सकता है.

AQI इंडेक्स के अनुसार, देश के सबसे वायु प्रदूषित शहरों में पहले नंबर पर पूर्णिया है. यहां वायु प्रदूषण गंभीर हालत में है. दूसरे नंबर पर दरभंगा है. तीसरे नंबर पर अररिया है. वहीं बेतिया, कटिहार, सहरसा, मुजफ्फरपुर क्रमश: चौथे, पांचवें, छठे और सातवें नंबर पर देश के सबसे प्रदूषित शहर हैं. आठवें नंबर पर त्रिपुरा का अगरतला है. वहीं सीवान और किशनगंज देश के नौवें और दसवें नंबर के सबसे प्रदूषित शहर हैं. पूर्णिया की तो हालत गंभीर है, मगर अन्य शहरों की वायु गुणवत्ता भी बहुत खराब श्रेणी की है.

उल्लेखनीय है कि शून्य से 50 के बीच एक्यूआई अच्छा, 51 से 100 के बीच संतोषजनक, 101 से 200 के बीच मध्यम, 201 से 300 के बीच खराब, 301 से 400 के बीच बहुत खराब और 401 से 500 के बीच एक्यूआई गंभीर माना जाता है.

वायु प्रदूषण से जानें क्या-क्या हो सकता है?
क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD) दुनिया भर में मौत का तीसरा प्रमुख कारण है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, सीओपीडी दुनिया भर में 3.23 मिलियन मौतों का कारण बना और उनमें से लगभग 90 प्रतिशत मौतें 70 साल से कम उम्र के लोगों की थीं और लो और मध्यम आय वाले देशों में हुईं. वायु प्रदूषण का सीओपीडी पर सीधा प्रभाव पड़ता है, वायु प्रदूषण के संपर्क में आने के लगभग तुरंत बाद लोगों को सांस की तकलीफ, खांसी, थूक, सिरदर्द और चेहरे और गले पर सूखापन के लक्षणों का अनुभव होता है. इसके अलावा भी निम्नलिखित तरह की दिक्कतें हो सकतीं हैं.
-अगर आपकी स्किन वायु प्रदूषण के संपर्क में आती है तो इससे जलन महसूस होने लगती है. इसके अलावा आंखों में भी इरिटेशन महसूस होती है.
- प्रदूषण के कारण आंखों के नीचे काले घेरे नजर आने लगते हैं. इसके अलावा आंखों के नीचे झुर्रियां भी होने लगती हैं. क्रो फीट लाइन ढ़ीली हो जाती है.
- इसके कारण आप समय से पहले बूढ़े नजर आने लगते हैं. क्योंकि खराब हवा से कई टॉक्सिन्स चेहरे पर जमा हो जाते हैं. इससे एक्ने और झाइयां फेस पर बढ़ जाती हैं.
- कई बार वायु प्रदूषण के कारण चेहरे पर लाल चकत्ते निकल आते हैं. जो आपके चेहरे को भद्दा बनाते हैं. ऐसे में आपको कुछ एहतियात बरतने की जरूरत है.

यह भी पढ़ें-

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

चीन से झड़प के कुछ दिन बाद अग्नि-V मिसाइल का सफल परीक्षण, बीजिंग तक मार करने में सक्षम
"हम हर हाल में पॉजिटिव रहेंगे", 'पठान' में दीपिका के कपड़ों पर हो रहे बवाल के बीच शाहरुख खान का मैसेज
'भारत जोड़ो यात्रा' के दौरान किसान के घर रुके राहुल गांधी, मशीन से काटा चारा