विज्ञापन
Story ProgressBack

PoK को लेकर कार्रवाई की जरूरत नहीं, वहां के लोग खुद कहेंगे कि वे भारत में विलय चाहते हैं : राजनाथ सिंह

Lok Sabha Elections 2024: राजनाथ सिंह ने कहा, "पाकिस्तान के पूर्व मंत्री फवाद चौधरी ने कहा था कि राहुल गांधी ऑन फायर. मुझे आश्चर्य हुआ. उसी फवाद चौधरी ने यह भी कहा था कि उड़ी और पुलवामा में जो आतंकी घटना हुई थी, वह पाकिस्तान की सरकार ने कराई थी. वे अब राहुल गांधी की प्रशंसा कर रहे हैं.

Read Time: 6 mins
PoK को लेकर कार्रवाई की जरूरत नहीं, वहां के लोग खुद कहेंगे कि वे भारत में विलय चाहते हैं : राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर जमकर हमला किया.
नई दिल्ली:

Lok Sabha Elections 2024: केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने पीओके पर एक बार फिर से भारत का रूख साफ किया. उन्होंने कहा कि पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) भारत का हिस्सा था, भारत का हिस्सा है और भारत का ही रहेगा. उन्होंने पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व मंत्री फवाद चौधरी (Fawad Chaudhary) की ओर से कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के समर्थन में किए गए ट्वीट को लेकर भी तंज कसा.

समाचार एजेंसी आईएएनएस से खास बातचीत में राजनाथ सिंह ने दिल्ली की आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार पर जमकर हमला किया. उन्होंने मुख्यमंत्री आवास पर निजी सचिव बिभव कुमार (Bibhav Kumar) द्वारा दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल से मारपीट और बदसलूकी मामले को लेकर अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर निशाना साधा.

पीओके को लेकर भविष्य में सरकार की ओर से कार्रवाई किए जाने के सवाल पर राजनाथ सिंह ने कहा, "पीओके हमारा था, है और रहेगा. मुझे लगता है कि आगे उसकी नौबत नहीं आएगी. पीओके के लोग सामने आकर खुद मांग करेंगे कि हम भारत के साथ जाना चाहते हैं. जिस तरीके से जम्मू-कश्मीर का विकास हो रहा है और जिस तरीके से अंतरराष्ट्रीय जगत में भारत का कद ऊंचा हुआ है, भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है और हमारे देश की अर्थव्यवस्था जितनी तेजी से आगे बढ़ रही है, आज हम दुनिया के देशों में टॉप पांच में पहुंच गए हैं, जो पहले 11वें स्थान पर थे."

भारत 2027 तक दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था होगा

रक्षा मंत्री ने कहा कि, "आज सारे फाइनेंशियल फर्म, इंटरनेशनल फाइनेंशियल बड़े-बड़े अर्थशास्त्री यह दावा कर रहे हैं कि 2027 आते-आते हमारे देश की अर्थव्यवस्था दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था होगी. यह सारी चीजें पाकिस्तान के हमारे जितने भाई हैं, वो देख रहे हैं, उनको भी लगता है कि पाकिस्तान के जो हुक्मरान हैं, वह कुछ करने की स्थिति में नहीं हैं. पीओके के लोग कम से कम हमारे हैं. मुझे ऐसा लगता है कि वह खुद ही कहेंगे हमारा विलय भारत के अंदर होना चाहिए. आपने देखा होगा कुछ दिनों पहले पीओके में पाकिस्तान के झंडे उतारे जा रहे थे."

राजनाथ सिंह ने कहा, "पाकिस्तान के पूर्व मंत्री फवाद चौधरी ने कहा था कि राहुल गांधी ऑन फायर. मुझे आश्चर्य हुआ और उसी फवाद चौधरी ने यह भी कहा था कि उड़ी और पुलवामा में जो आतंकी घटना हुई थी, वह पाकिस्तान की सरकार ने कराई थी. वह अब राहुल गांधी की प्रशंसा कर रहे हैं. मैं समझता हूं कि इस चुनाव में देश उसका फैसला कर देगा. राहुल को लेकर भारत की राजनीति में चिंता करने की किसी को कोई जरूरत नहीं है. मैं किसी के बारे में कोई अनुचित टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं. लेकिन, इससे भारतीय जनता पार्टी को कोई परेशानी और कोई चिंता नहीं है. राजनीति में बहुत लोग काम करते रहते हैं, और वह भी काम कर रहे हैं."

आतंकवाद के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय को संज्ञान लेना चाहिए

विदेशी मीडिया आरोप लगाता है कि भारत, पाकिस्तान की धरती पर आतंकवादियों पर कार्रवाई कर रहा है, क्या यह अपने हितों की रक्षा करने वाला एक नया मुखर भारत है?

इस सवाल के जवाब में रक्षा मंत्री ने कहा कि हर देश को अपने हितों की रक्षा करनी चाहिए और भारत अपने हितों की रक्षा करता है. मैं कहता हूं कि हमारी एलओसी है. कोई आतंकवादी आता है. इधर बड़ी वारदात करके चला जाता है और इधर हमारी सेना अथवा हमारे पैरामिलिट्री फोर्स के जवान उन्हें खदेड़ते हैं. थोड़ा बाहरी सीमा के उस पार चला जाएगा तो क्या फिर हम अब अपनी गन एकदम सीधी कर लेंगे. क्या उस पर फायर नहीं करेंगे? मैं कहता हूं कि आतंकवाद के मुद्दे पर पूरे अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इसका संज्ञान लेना चाहिए और गंभीरतापूर्वक विचार करना चाहिए. देखना चाहिए कि इस प्रकार के आतंकवादियों को पाकिस्तान क्यों प्रश्रय दे रहा है और इस आतंकवादी गतिविधियों को पाकिस्तान की सरकार नहीं रोक सकती है. हम लोगों का सहयोग प्राप्त कर, आतंकवादियों को समाप्त करेंगे."

''आम आदमी पार्टी ने राजनीति में विश्वास का बड़ा संकट पैदा किया''

राजनाथ सिंह ने आम आदमी पार्टी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को निशाना बनाया. उन्होंने कहा कि, ''आम आदमी पार्टी ने भारत की राजनीति में विश्वास का बड़ा संकट पैदा किया है. शायद ही किसी राजनीतिक पार्टी ने जनता के लिए इतना विश्वास का संकट पैदा किया हो.'' 

रक्षा मंत्री ने कहा कि, ''अरविंद केजरीवाल, अन्ना हजारे के साथ आंदोलन में थे. वे कहते रहे कि आंदोलन समाप्त होने के बाद पॉलिटिकल पार्टी नहीं बनानी चाहिए? एक बार उन्होंने कहा कि पार्टी नहीं बनाएंगे, फिर बाद में राजनीतिक पार्टी बना ली. उस समय अन्ना हजारे ने अपनी नाराजगी भी व्यक्त की थी. अरविंद केजरीवाल कहते थे कि अगर हमारी सरकार बनी और मैं मुख्यमंत्री बनूंगा तो कभी भी सरकारी आवास में नहीं रहूंगा. लेकिन उन्होंने करोड़ों रुपए का शीशमहल तैयार करवा लिया.''

''मुख्यमंत्री आवास पर महिला का उत्पीड़न हुआ''

सांसद स्वाति मालीवाल के साथ मारपीट और बदसलूकी के मामले का जिक्र करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि, ''जिस प्रकार से मुख्यमंत्री आवास पर एक महिला के साथ उत्पीड़न हुआ, उसे लात-घूंसे मारे गए, अजीबो-गरीब स्थिति पैदा हो गई. उसके बाद जिस निजी सचिव ने इस घटना को अंजाम दिया, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उसी बिभव कुमार को लेकर लखनऊ में घूम रहे थे.''

उन्होंने कहा कि, ''चाहे कोई परिवार हो, बिना लाज-शर्म के नहीं चल सकता. समाज भी बिना लाज-शर्म के नहीं चल सकता और इस देश का लोकतंत्र भी बिना लोक-लाज के नहीं चल सकता. इस हकीकत को समझना चाहिए और जितना बड़ा अपराध उन लोगों ने किया है, मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि देश की अदालत द्वारा इंसाफ होकर रहेगा और इंसाफ हो रहा है.''
 

यह भी पढ़ें - 

मैंने अपनी मां खोई...राजनाथ सिंह ने कांग्रेस को क्यों याद दिलाए इंदिरा गांधी के इमरजेंसी वाले हालात?

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
आपातकाल की बरसी : संविधान दिखा रहे विपक्ष को आज BJP घेरेगी, जानें क्‍या है प्‍लान
PoK को लेकर कार्रवाई की जरूरत नहीं, वहां के लोग खुद कहेंगे कि वे भारत में विलय चाहते हैं : राजनाथ सिंह
NEET पेपर लीक मामला : बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई ने पांच और लोगों को हिरासत में लिया
Next Article
NEET पेपर लीक मामला : बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई ने पांच और लोगों को हिरासत में लिया
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;