''लोगों का दर्द ज्‍यादा बड़ा....'': व्‍हीलचेयर पर रैली को संबोधित करते हुए बोलीं ममता बनर्जी

ईंधन की कीमतों में वृद्धि के लिए केंद्र सरकार को जिम्‍मेदार ठहराते हुए ममता ने कहा, ''हम विकास में जुटे हुए हैं और बीजेपी ईंधन और रसोई गैस  के दाम बढ़ा रही है. केरोसिन भी नहीं है. ''

''लोगों का दर्द ज्‍यादा बड़ा....'': व्‍हीलचेयर पर रैली को संबोधित करते हुए बोलीं ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने अपने संबोधन में बीजेपी पर जमकर निशाना साधा

खास बातें

  • ममता ने कहा-मेरी किस्‍मत है कि मैं बच गई
  • संबोधन में बीजेपी पर साधा जमकर निशाना
  • ईंधन, रसोई गैस में वृद्धि के लिए केंद्र को आड़े हाथ लिया
कोलकाता :

West Bengal Assembly Elections 2021: पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee)ने रविवार से व्‍हीलचेयर पर अपने चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत की. वे नंदीग्राम में पिछले सप्‍ताह धक्‍का लगने की वजह से घायल हो गई थीं. ममता ने आज पुरुलिया की करीब 300 किलोमीटर की यात्रा की. वहां मुख्‍यमंत्री ने अपनी चोट का उल्‍लेख करते हुए कहा, ''लोगों का दर्द मेरे दर्द से बड़ा है. मैं एक एक्‍सीडेंट में घायल हो गई थी. यह मेरी किस्‍मत है कि मैं बच गई. मुझे प्‍लास्‍टर है और मैं चल नहीं सकती. कुछ लोगों ने सोचा कि मैं टूट हुए पैर के साथ बाहर कदम नहीं रख पाऊंगी.'' क्षेत्र में लोगों को संबोधित करते हुए हुए ममता ने विरोधी भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधते हुए कहा, ''बीजेपी यहां झूठ के कारण जीती. वे सब कुछ बेच रहे हैं. '' गौरतलब है कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने यहां जीत हासिल की थी. 

ममता के चोट विवाद पर बोले अमित शाह, उन भाजपा कार्यकर्ताओं का क्या, जिनकी जान चली गई...


ईंधन की कीमतों में वृद्धि के लिए केंद्र सरकार को जिम्‍मेदार ठहराते हुए ममता ने कहा, ''हम विकास में जुटे हुए हैं और बीजेपी ईंधन और रसोई गैस  के दाम बढ़ा रही है. केरोसिन भी नहीं है. '' उन्‍होंने कहा, ''हमारी सरकार ने विधवाओं के लिए एक हजार रुपये की पेंशन की घोषणा की है. हमारी सरकार ने दुआरे (द्वार पर) के अंतर्गत सरकार जाति प्रमाणपत्र बांटे हैं. हमने रघुनाथ मुरमु परिसर का निर्माण भी किया है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान ममता के चोटिल होने पर चुनाव आयोग ने कहा है कि यह हमला नहीं है, बल्कि एक हादसा है. बुधवार को नंदीग्राम से चुनावी पर्चा भरने के बाद, ममता कार के फुटबॉर्ड पर खड़ी होकर मार्केट में लोगों का अभिनंदन कर रही थीं. तभी धक्‍का लगने के कारण उनके पैर में चोट पहुंची थी. शुक्रवार को रिपोर्ट मिलने के बाद चुनाव आयोग ने इस मामले पर चर्चा करने के लिए बैठक की थी. आयोग ने कहा कि यह हादसा उनके सुरक्षाकर्मियों की चूक की वजह से हुआ है.