दिल्ली में वैक्सीन की किल्लत, बंद हुआ 18+ का वैक्सीनेशन, कोविशील्ड का स्टॉक खत्म

आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी ने कहा कि दिल्ली में अब युवाओं के लिए कहीं भी फ्री वैक्सीनेशन नहीं हो रहा है, कोविन ऐप खोलिए तो केवल प्राइवेट अस्पतालों में वैक्सीन उपलब्ध है, जो काफी महंगा चार्ज कर रहे हैं.

दिल्ली में वैक्सीन की किल्लत, बंद हुआ 18+ का वैक्सीनेशन, कोविशील्ड का स्टॉक खत्म

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वैक्सीन की कमी के कारण 18+ का वैक्सीनेशन बंद हो गया और कोविशील्ड का स्टॉक भी खत्म हो गया. आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी ने कहा कि दिल्ली में अब युवाओं के लिए कहीं भी फ्री वैक्सीनेशन नहीं हो रहा है, कोविन ऐप खोलिए तो केवल प्राइवेट अस्पतालों में वैक्सीन उपलब्ध है, जो काफी महंगा चार्ज कर रहे हैं. इसलिए केंद्र सरकार से अनुरोध है कि जल्द से जल्द वैक्सीन उपलब्ध कराएं. वैक्सीन के स्टॉक की बात करें तो 18-44 उम्र वालों के लिए कोविशील्ड का भी स्टॉक खत्म हो चुका है, जबकि 12 दिन से को-वैक्सीन खत्म है.  

दिल्ली में भी 26 से कार-बाइक में बैठे-बैठे वैक्सीनेशन की सुविधा, सीएम अरविंद केजरीवाल करेंगे आगाज

18-44 उम्र वालों के लिए वैक्सीन स्टॉक 10,590 उपलब्ध  है. को-वैक्सीन की 1,530 स्टॉक उपलब्ध है. (अब तक मिली 1,50,000 डोज, इस्तेमाल हुई 1,48,470 डोज). कोविशील्ड की 9,060 स्टॉक उपलब्ध है. (अब तक मिली 6,67,690 डोज, इस्तेमाल हुई 6,58,630 डोज). हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 45 साल से ज्यादा उम्र वालों के लिए 1 दिन से कम की को-वैक्सीन  बची और 14 दिन की कोविशील्ड (24 मई को 45+ के लिए मिली 1,50,000 डोज कोविशील्ड).

हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 45 साल से ज्यादा उम्र वालों के लिए वैक्सीन स्टॉक- 2,15,180 उपलब्ध है. को-वैक्सीन की 25,120 स्टॉक उपलब्ध है. (अब तक मिली 14,41,800 डोज, इस्तेमाल हुई 14,16,680 डोज), जबकि कोविशील्ड- 1,90,060 स्टॉक उपलब्ध है. (अब तक मिली 31,52,450 डोज, इस्तेमाल हुई 29,62,390)

22 और 23 मई को कुल 68,496 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है. दिल्ली में वैक्सीनेशन का कुल आंकड़ा 50,85,703 हुआ. अभी 555 सेंटर्स की 721 साइट्स पर 45+ को वैक्सीन लगाई जा रही है, 18+ के लिए 12 सेंटर्स की 33 साइट्स पर व्यवस्था.

आतिशी ने कहा कि आज के बाद 45+ के लिए को-वैक्सीन का स्टॉक खत्म हो जाएगा. यह चिंता की बात है, क्योंकि बहुत लोग है, जिन्होंने केवल पहली डोज ली है, ऐसे लोगों के लिए दूसरी डोज जरूरी है. अगर यह नहीं लगती है, तो पहली डोज का कोई मतलब नहीं रह जाएगा. कोरोना की इस लहर में दिल्ली सबसे ज्यादा प्रभावित हुई है, ऐसे में वैक्सीनेशन जारी रहना जरूरी है. 

मनीष सिसोदिया का केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री को लेटर, कहा-हमने पूरी व्‍यवस्‍था कर ली लेकिन वैक्‍सीन नहीं मिल रही..

युवाओं का वैक्सीनेशन आज से पूरी तरह बंद हो जाएगा, 10-12 स्कूलों में आज वैक्सीन लगी, लेकिन आज के बाद 18+ के लिए दोनों ही वैक्सीन खत्म हो जाएगी. यह बड़ी चिंता की बात है. इस लहर में बड़ी संख्या में इस आयु वर्ग के लोग संक्रमित हुए और बड़ी संख्या में मौत भी हुई है. लॉक डाउन खुलने के बाद यही आयु वर्ग सबसे ज्यादा बाहर निकलेगा. ऐसे में इनका वैक्सीनेशन बंद होना चिंता की बात है. अगले महीने के लिए केंद्र से इस महीने की तुलना में आधी वैक्सीन मिलने वाली है.


कंपनियां राज्यों को टीका देने को तैयार नहीं, केंद्र ने कहा- राज्य खुद खरीदें वैक्सीन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com