'UPTET पेपर आउट घोटाले का मास्टरमाइंड बीजेपी विधायक का भाई', प्रियंका गांधी ने खबरों का दिया हवाला

प्रियंका ने कहा, 'आपने देखा होगा कि 27 नवंबर को यूपीटेट की परीक्षा हुआ. 22 लाख युवाओं ने मेहनत की, जिस पर पानी फिर गया. दो सालों के लिए काम किया. क्या हुआ पेपर आउट हो गया.

'UPTET पेपर आउट घोटाले का मास्टरमाइंड बीजेपी विधायक का भाई',  प्रियंका गांधी ने खबरों का दिया हवाला

प्रियंका गांधी ने यूपीटीईटी पेपर लीक को लेकर बीजेपी पर साधा निशाना

नई दिल्ली:

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने यूपी में यूपीटेट परीक्षा लीक (UPTET paper leak) को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है. प्रियंका गांधी ने एक ट्वीट जारी कर बीजेपी सरकार पर हमला बोला है. प्रियंका ने ट्वीट के साथ लिखा, खबरों के अनुसार  UP-TET पेपर आउट घोटाले का मास्टरमाइंड भाजपा विधायक का भाई है. योगी आदित्यनाथजी सख्ती और पारदर्शिता की आपकी सभी बातें खोखली हैं. कांग्रेस, सपा और अन्य दलों के नेता यूपीटेट भर्ती परीक्षा लीक को लेकर लगातार सरकार पर हमलावर रहे हैं. 

प्रियंका ने कहा, 'आपने देखा होगा कि 27 नवंबर को यूपीटेट की परीक्षा हुआ. 22 लाख युवाओं ने मेहनत की, जिस पर पानी फिर गया. दो सालों के लिए काम किया. क्या हुआ पेपर आउट हो गया. परीक्षा रद्द हो गई. भर्ती फिर से लटक गई. ऐसी तमाम भर्तियां हैं, जो 6-6 सालों से नियुक्तियों का इंतजार कर रहे हैं. जिन्होंने कई परीक्षाएं दे दी हैं, लेकिन उन्हें रोजगार नहीं मिला है.' 


गौरतलब है कि यूपी में 27 नवंबर को होने वाली यूपीटीईटी परीक्षा के पेपर लीक (UPTET paper leak ) के केस में यूपी पुलिस ने कठोर कार्रवाई की थी. पुलिस ने पेपर लीक करने वाले गिरोह के 29 सदस्यों को कई जिलों से गिरफ्तार करने का दावा किया था. सीएम योगी आदित्यनाथ ने पेपर लीक करने के आरोपियों पर रासुका लगाने का निर्देश दिया था. योगी सरकार ने कहा कि व्हाट्सएप पर पेपर लीक केस में 29 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (uptet) के पेपर लीक होने को लेकर सरकार को आलोचना झेलनी पड़ी है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यूपी पुलिस ने कहा था कि परीक्षा (UPTET Exam 2021) में गड़बड़ी रोकने के तहत नकल माफिया और सॉल्वर गैंग पर नजर रखने के लिए जाल बिछाया गया था. खुफिया सूचना के आधार पर 29 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. एसटीएफ ने मेरठ से तीन लोगों को, वाराणसी और गोरखपुर से दो लोगों को, कौशांबी से एक और प्रयागराज से 16 लोगों को गिरफ्तार किया है. कुछ और लोगों को गिरफ्तार किया जा सकता है. अयोध्या और अंबेडकर नगर जिले से भी 1-1 व्यक्ति को पकड़ा गया है.