VIDEO: मध्‍य प्रदेश के भिंड में सहयोगी पुलिसकर्मियों ने पुलिस अधीक्षक को डोली में बिठाकर दी विदाई

मध्‍य प्रदेश के भिंड में सहयोगी पुलिसकर्मियों ने पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार को अनोखे अंदाज में विदाई दी. विदाई समारोह में पुलिसकर्मियों ने उन्हें फूलों से सजी डोली में बैठाकर विदा किया. पुलिस जवानों ने कहार बनकर डोली उठाई. ढोल-नगाड़ों के साथ जवानों ने अफसर को विदाई दी.

भोपाल:

मध्‍य प्रदेश के भिंड में सहयोगी पुलिसकर्मियों ने पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार को अनोखे अंदाज में विदाई दी. विदाई समारोह में पुलिसकर्मियों ने उन्हें फूलों से सजी डोली में बैठाकर विदा किया. पुलिस जवानों ने कहार बनकर डोली उठाई. ढोल-नगाड़ों के साथ जवानों ने अफसर को विदाई दी. इस मौके पर जिले के नये एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान भी मौजूद थे. पिछले बुधवार को ही 13 आईपीएस अधिकारियों का तबादला हुआ, जिसमें भिंड के पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह भी थे.

मनोज सिंह ने हाल में ही अमेजन प्लेटफॉर्म से कथित तौर पर गांजा बेचने के मामले में कंपनी के आला अधिकारियों को तलब किया था. पुलिस अधीक्षक पद पर रहते हुए उन्होंने खाद लूट के मामले में प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया के गृह गांव में रहने वाले दबंगों पर FIR दर्ज कराई थी. उसके बाद से ही चर्चा था कि उनका तबादला होगा.

बता दें कि पिछले दिनों प्रदेश के मुखिया ने पारदर्शी तबादला नीति की बात की थी लेकिन उनके ऐलान के ठीक बाद थोकबंद तबादले होने लगे. गुरुवार 2 दिसंबर को ही 13 आईपीएस अधिकारियों का तबादला हुआ, जिसमें भिंड के पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह का नाम भी शामिल था. मनोज सिंह ने हाल में ही अमेजन प्लेटफॉर्म से कथित तौर पर गांजा बेचने के मामले में उसके आला अधिकारियों को तलब किया था. सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस जहां इसे तबादला उद्योग बताया था तो वहीं सरकार ने इसे सतत प्रक्रिया बताया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मध्‍य प्रदेश में तबादलों पर उठ रहे हैं सवाल, कांग्रेस का तबादला कारोबार का आरोप