रामविलास पासवान पर तेजस्वी यादव की मांग को मिला सुशील मोदी का समर्थन

तेजस्वी ने यह पत्र ऐसे समय में लिखा है जब एक दिन बाद रामविलास पासवान की बरसी मनाई जानेवाली है. उनके बेटे चिराग पासवान पटना में 12 सितंबर को रामविलास पासवान की पहली बरसी मनाएंगे

रामविलास पासवान पर तेजस्वी यादव की मांग को मिला सुशील मोदी का समर्थन

तेजस्वी यादव की मांगों को मिला सुशील मोदी का समर्थन. (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार (Bihar) में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) द्वारा रघुवंश प्रसाद सिंह और रामविलास पासवान को लेकर की गई मांग का भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने समर्थन किया है. तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को पत्र लिखकर मांग की है कि राज्य में रघुवंश प्रसाद सिंह और रामविलास पासवान की आदमकद प्रतिमा स्थापित की जानी चाहिए. इसके साथ ही तेजस्वी ने मांग की है कि इन दोनों नेताओं की जयंती और पुण्यतिथि को राजकीय समारोह घोषित किया जाना चाहिए.

सुशील मोदी ने तेजस्वी की मांगों का समर्थन करते हुए कहा कि रामविलास एनडीए के शिल्पी थे. पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने बिहार के विकास और राष्ट्रीय राजनीति में जो बड़ी भूमिका निभायी, उसे देखते हुए पटना में उनकी प्रतिमा लगनी चाहिए. उन्होंने दलितों को आगे बढाने के लिए लगातार संघर्ष किया, लेकिन कभी नफरत की राजनीति नहीं की. उनकी जयंती पर राजकीय समारोह होना चाहिए.


सुशील मोदी ने कहा कि रामविलास पासवान ने अटल बिहारी वाजपेयी और नरेंद्र भाई मोदी की यशस्वी सरकारों में रह कर देश की सेवा की. रेल मंत्री के रूप में उनके योगदान को बिहार कभी नहीं भुला सकता. 1977 में आपातकाल हटने के बाद पहले संसदीय चुनाव में रामविलास पासवान ने सबसे ज्यादा मतों के अंतर से जीतने का रिकार्ड बनाया था. ऐसे लोकप्रिय नेता की पहली बरसी पर सभी दलों और वर्गों के लोग उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे. इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
Viral Video: मिलिए बिहार की दूसरी शारदा सिन्हा से, आवाज़ सुनकर आप भी दंग हो जाएंगे
"जेपी, लोहिया की विचारधारा को पाठ्यक्रम में शामिल करें": कुलपतियों की बैठक में बोले बिहार के राज्यपाल
Bihar: बच्‍चों में वायरल फीवर के केसों ने बढ़ाई चिंता, राज्‍य सरकार ने अलर्ट जारी किया