किसानों संग दिल्ली आ रहे योगेंद्र यादव हिरासत में लिए गए, पूछा- 'डिप्टी सीएम ने की रैली तब कोरोना नहीं था?'

"Delhi Chalo Protest: पुलिस द्वारा हिरासत में लेने पर योगेंद्र यादव ने कहा,  मुझे कह रहे हैं कि मैं शांति भंग करा हूं . कहा जा रहा है कि Pandemic Act का उल्लंघन कर रहा हूं. किसानों पर पानी की बौछार की जा रही हैं, क्या इस देश में किसान होना अपराध है? रविवार को मेवात में हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की रैली थी तब कोरोना नहीं था क्या?"

गुरुग्राम:

स्वराज इंडिया (Swaraj India) के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) को गुरुग्राम पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. यादव किसानों संग हरियाणा से दिल्ली की ओर कूच कर रहे थे. उन्हें पुलिस ने गुरुग्राम के विलासपुर इलाके से हिरासत में लिया. उनके साथ 50 से ज्यादा किसनों को भी हरियाणा पुलिस ने हिरासत में लिया है. इस दौरान हरियाणा में पुलिस और किसानों के बीच झड़प की भी खबरें हैं.

पुलिस द्वारा हिरासत में लेने पर योगेंद्र यादव ने कहा,  मुझे कह रहे हैं कि मैं शांति भंग करा हूं . कहा जा रहा है कि Pandemic Act का उल्लंघन कर रहा हूं. किसानों पर पानी की बौछार की जा रही हैं, क्या इस देश में किसान होना अपराध है? रविवार को मेवात में हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की रैली थी तब कोरोना नहीं था क्या?"
 
यादव ने कहा कि कोरोना के दौरान ही केंद्र सरकार ने किसान विरोधी ये तीन काले कानून लाए हैं लेकिन हम अपना आंदोलन जारी रखेंगे.

पांच नाटकीय फोटो में देखें हरियाणा में पुल पर हुई पुलिस और किसानों के बीच झड़प के नजारे

बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ छह राज्यों के 500 संगठनों से जुड़े किसान दिल्ली मार्च कर रहे हैं लेकिन उन्हें दिल्ली आने के रास्ते में ही रोका जा रहा है. इसका सबसे ज्यादा असर हरियाणा में है, जहां पंजाब और हरियाणा के किसानों को हरियाणा पुलिस किसी भी कीमत पर दिल्ली आने से रोक रही है. अंबाला में पंजाब-हरियाणा बॉर्डर के पास पंजाब के किसानों और हरियाणा पुलिस के बीच झड़प की खबरें हैं.

दिल्ली कूच कर रहे किसानों और पुलिस के बीच झड़प, ईंट-पत्थर चले; बैरिकेड्स तोड़ नदी में फेंका


किसानों ने इस दौरान एक पुल के ऊपर किए गए बैरिकेड्स तोड़कर नदी में फेंक दिए हैं. हाथों में लाठी, डंडा, झंडा और तलवार लिए किसानों ने इंट पत्थर भी फेंके हैं. इससे पहले उन पर आंसू गैस के गोले दागे गए थे और पानी की बौछार की गई थी.

वीडियो- कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब के किसानों का 'दिल्ली चलो'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com