गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा की साजिश और आपराधिक मंसूबों की जांच करेगी स्पेशल सेल : दिल्ली पुलिस

26 जनवरी की हिंसा की साज़िश को लेकर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने यूएपीए के तहत केस दर्ज किया है. स्पेशल सेल दिल्ली पुलिस की एन्टी टेरर यूनिट है. लाल किले में हिंसा और पूरी दिल्ली में हुई हिंसा की साज़िश की जांच होगी.

गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा की साजिश और आपराधिक मंसूबों की जांच करेगी स्पेशल सेल : दिल्ली पुलिस

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

26 जनवरी की हिंसा की साज़िश को लेकर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने यूएपीए के तहत केस दर्ज किया है. स्पेशल सेल दिल्ली पुलिस की एन्टी टेरर यूनिट है. लाल किले में हिंसा और पूरी दिल्ली में हुई हिंसा की साज़िश की जांच होगी. हिंसा के पीछे मास्टरमाइंड कौन है पता लगाया जाएगा. दिल्ली पुलिस का विशेष प्रकोष्ठ 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा की साजिश और आपराधिक मंसूबों की जांच करेगा. अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. दिल्ली पुलिस ने दावा किया कि किसान नेताओं के साथ बनी सहमति को दरकिनार करने की पूर्व नियोजित तथा सोची-समझी योजना थी ताकि गणतंत्र दिवस पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सरकार को शर्मिंदा कराया जा सके.

पुलिस द्वारा किसानों को हटाने की कोश‍िश के बाद यूपी से लगती दिल्ली की सीमा पर लगा ट्रैफिक जाम

पुलिस ने एक बयान में कहा, ''विशेष प्रकोष्ठ 26 जनवरी को हुईं दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं की साजिश और आपराधिक मंसूबों की जांच कर रहा है.'' बयान में कहा गया है, ''प्रारंभिक जांच में पता चला है कि सुरक्षा बलों से हिंसक झड़प करने, ऐतिहासिक धरोहर की पवित्रता को तार-तार करने और गणतंत्र दिवस के मौके पर सरकार को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शर्मिंदा कराने के लिये दिल्ली पुलिस तथा किसान संगठनों के बीच बनी सहमति को पूर्व नियोजित तथा सोची-समझी साजिश के तहत दरकिनार किया गया.''

पुलिस ने कहा कि आपराधिक मामले दर्ज किये गए हैं और गैरकानूनी गतिविधियां (निवारण) अधिनियम के प्रावधानों तथा भारतीय दंड संहिता की राजद्रोह से संबंधित धाराओं के तहत जांच की जा रही है. बयान के अनुसार, ''भारत तथा देश से बाहर स्थित लोगों और संगठनों की भूमिका तथा गतिविधियों की जांच की जा रही है। जांच प्रगति पर है और विस्तृत जानकारी साझा की जाती रहेगी.''


पीएम मोदी वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में बोले, भारत कोरोना के कई और टीके दुनिया को मुहैया कराएगा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


केन्द्र के तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर किसान यूनियनों की ट्रैक्टर रैली के दौरान प्रदर्शनकारी किसानों की पुलिस के साथ झड़प हो गई थी. प्रदर्शनकारी ट्रैक्टर लेकर लाल किले पहुंच गए थे। इस दौरान उन्होंने लाल किले की गुंबद और प्राचीर के ध्वज स्तंभ पर धार्मिक झंडा लगा दिया था. (इनपुट भाषा से भी)



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)