नाथूराम गोडसे का किरदार निभाने वाले एनसीपी सांसद कोल्हे के बचाव में उतरे शरद पवार

एनसीपी सांसद डॉ. अमोल कोल्हे ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने महात्मा गांधी के हत्यारे के विचारों और कार्यों का कभी समर्थन नहीं किया.

नाथूराम गोडसे का किरदार निभाने वाले एनसीपी सांसद कोल्हे के बचाव में उतरे शरद पवार

Nathuram Godse का किरदार निभाया है एनसीपी सांसद अमोल कोल्हे ने

मुंबई:

एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार एक आगामी फिल्म में नाथूराम गोडसे का किरदार निभाने को लेकर आलोचनाओं से घिरे अपनी पार्टी के सांसद एवं अभिनेता अमोल कोल्हे के बचाव में उतरे हैं. इससे पहले एनसीपी नेता एवं महाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र अव्हाड ने पश्चिम महाराष्ट्र के शिरूर से सांसद कोल्हे पर ‘व्हाई आई किल्ड गांधी' फिल्म में महात्मा गांधी के हत्यारे का किरदार निभाने को लेकर निशाना साधा था.पवार ने कहा, ‘डॉ. अमोल कोल्हे का फिल्म में किरदार करने के फैसले को कलाकार के चयन के तौर पर देखा जाना चाहिए. यदि उन्होंने यह भूमिका निभायी है तो इसका मतलब यह नहीं है कि वह गोडसे की विचारधारा या दृष्टिकोण को मानते हैं.

अगर किसी फिल्म में कोई औरंगजेब की भूमिका निभाता है तो उसे मुगलों के समर्थक के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए ...(रामायण में) रावण ने सीता का अपहरण किया, क्या इसका मतलब यह है कि रावण का किरदार निभाने वाले कलाकार ने वाकई उनका अपहरण किया. पार्टी नेता अव्हाड के विरोध किये जाने पर पवार ने कहा कि उन्होंने जरूर अपनी निजी राय सामने रखी होगी.

एनसीपी सांसद डॉ. अमोल कोल्हे ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने महात्मा गांधी के हत्यारे के विचारों और कार्यों का कभी समर्थन नहीं किया.पश्चिमी महाराष्ट्र के शिरूर से सांसद कोल्हे ने कहा, ‘ऐसा लगता है कि हिंदी फिल्म ‘‘व्हाई आई किल्ड गांधी'' में गोडसे के रूप में मेरी भूमिका के कारण बहुत से लोग आहत हुए हैं...मैंने कभी भी गोडसे के कृत्य या महात्मा गांधी के खिलाफ उसके विचारों का समर्थन नहीं किया.'कोल्हे ने कहा कि छत्रपति शिवाजी की भूमिका निभाने के बाद वह टीवी पर या किसी फिल्म में छत्रपति संभाजी (शिवाजी के पुत्र) की भूमिका निभाना चाहते थे.

एमबीबीएस कर चुके कोल्हे ने कहा कि उन्हें संभाजी पर एक धारावाहिक के लिए प्रस्ताव मिला, लेकिन कुछ दिनों के बाद शूटिंग रुक गई. उन्होंने कहा कि उसी समय, 2017 में उन्हें अशोक त्यागी द्वारा निर्देशित फिल्म में गोडसे की भूमिका निभाने का प्रस्ताव मिला. कोल्हे ने कहा कि दिवंगत नीलू फुले या प्राण जैसे अभिनेताओं ने फिल्मों में नकारात्मक भूमिकाएं निभाईं लेकिन वास्तविक जीवन में वे प्रगतिशील व्यक्ति थे. उन्होंने कहा, ‘मैं दोहराना चाहूंगा कि मैं गोडसे की विचारधारा का समर्थन नहीं करता.' उन्होंने फिल्म का प्रचार भी नहीं किया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा, ‘2017 में अभिनेता के तौर पर मैं फिल्मों में भूमिका पाना चाहता था. इसे उसी संदर्भ में समझा और देखा जाना चाहिए.' कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख नाना पटोले ने कहा कि उनकी पार्टी गांधी की हत्या करने वालों का समर्थन और प्रचार करने की निंदा करती है. प्रदेश भाजपा प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि कोल्हे को गोडसे और उसके विचारों पर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए क्योंकि उनके नेता शरद पवार गोडसे के विचारों को स्वीकार नहीं करते.