Shaheen Bagh Firing: प्रत्यक्षदर्शी ने बताया- 'शख्स ने जय श्रीराम के नारे लगाए और फिर...'

Shaheen Bagh Firing: दिल्ली के शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में नागरिकता कानून (CAA Protests) के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन स्थल के पास एक शख्स ने फायरिंग की. फायरिंग के समय वह 'जय श्रीराम' के नारे लगा रहा था.

Shaheen Bagh Firing: प्रत्यक्षदर्शी ने बताया- 'शख्स ने जय श्रीराम के नारे लगाए और फिर...'

Shaheen Bagh Firing: शाहीन बाग में पुलिस बैरिकेड के पास फायरिंग.

खास बातें

  • शाहीन बाग में पुलिस बैरिकेड के पास फायरिंग
  • आरोपी शख्स ने लगाए 'जय श्रीराम' के नारे
  • किसी भी शख्स के घायल होने की कोई खबर नहीं
नई दिल्ली:

दिल्ली के शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में नागरिकता कानून (CAA Protests) के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन स्थल के पास एक शख्स ने फायरिंग की. फायरिंग के समय वह 'जय श्रीराम' के नारे लगा रहा था. आरोपी कपिल गुर्जर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और शाहीन बाग पुलिस स्टेशन में उससे पूछताछ की जा रही है. उधर, एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि पुलिस के पास में खड़े शख्स ने दो-तीन बार फायरिंग की. उसने बताया, 'हमने अचानक गोलियों की आवाज सुनी. उस समय वह 'जय श्रीराम' के नारे लगा रहा था. उसके पास सेमी ऑटोमेटिक गन थी और उसने दो राउंड फायर किए. पुलिस उसके पीछे खड़ी थी. उसने आगे बताया कि जब उसकी बंदूक जाम हो गई, तो वह भागने लगा. उसने फिर से फायरिंग की कोशिश की बंदूक को झाड़ियों में फेंक दिया. इसके बाद हमने कुछ पुलिसवालों की मदद से उसे पकड़ लिया. दिल्ली पुलिस के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि यह शख्स हवा में फायरिंग कर रहा था, जिसे तुरंत की गिरफ्तार कर लिया गया. 
 


जामिया फायरिंग मामला: CAA के खिलाफ प्रदर्शनों को राष्ट्र विरोधी गतिविधियां मानता था नाबालिग

इससे पहले गुरुवार को दिल्‍ली के जामिया इलाके में सीएए का विरोध कर रहे छात्रों पर एक नाबालिग ने गोली चला दी थी जिसे पुलिस ने मौके पर हिरासत में ले लिया था. उसकी गोली से शादाब नाम का एक छात्र घायल हो गया था. बता दें कि हाल ही में शाहीन बाग में नागरिकता कानून के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन स्थल के पास एक शख्स हथियार लेकर पहुंच गया था. हाजी लुकमान नाम के इस शख्स का कहना था कि वह 30 साल से इसी इलाके में रहता था और वहां वह लोगों से बात करने और उसे समझाने पहुंचा था.
 


जामिया फायरिंग केस: निशाने पर था शाहीन बाग, ऑटो ड्राइवर की वजह से टला बड़ा कांड

हाजी लुकमान ने बताया था कि वह प्रदर्शन कर रहे लोगों को सिर्फ यह समझाने गया था कि एक तरफ का रास्ता खोल दिया जाए, क्योंकि इलाके के लोगों को बहुत ज्यादा परेशानी हो रही है. एक तरफ से रास्ता खोलने से स्कूल बस और जरूरी वाहनों को निकलने में आसानी होगी.


जामिया, शाहीन बाग और निजामुद्दीन में चल रहे प्रदर्शनों की सुरक्षा को लेकर अब चर्चा का दौर शुरू हो गया है. शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों ने रोड ब्‍लॉक कर रखा है, जबकि जामिया और निजामुद्दीन में प्रदर्शनकारियों ने रोड को ब्‍लॉक नहीं किया. शाहीन बाग रोड ब्‍लॉक होने से नोएडा और उसके आसपास के इलाकों से आने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: दिल्ली के शाहीन बाग में युवक ने की फायरिंग, पुलिस ने दबोचा