गणतंत्र दिवस हिंसा : फॉरेंसिक विशेषज्ञों की टीम ने लालकिला से सबूत इकट्ठे किए

गणतंत्र दिवस पर किसानों की ‘ट्रैक्टर परेड’ के दौरान भड़की हिंसा के सिलसिले में सबूत एकत्रित किए, दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा इस मामले की जांच कर रही

गणतंत्र दिवस हिंसा : फॉरेंसिक विशेषज्ञों की टीम ने लालकिला से सबूत इकट्ठे किए

लाल किला परिसर में सुरक्षा बलों के जवान तैनात हैं.

नई दिल्ली:

फॉरेंसिक विशेषज्ञों की एक टीम गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर किसानों (Farmers) की ‘ट्रैक्टर परेड'(Tractor Parade)  के दौरान भड़की हिंसा (Violence) के सिलसिले में साक्ष्य एकत्र करने के लिए शनिवार को लालकिला (Red Fort) पहुंची. उन्होंने वहां से साक्ष्य एकत्रित करने के लिए नमूने लिए. गौरतलब है कि 26 जनवरी को किसान संगठनों की ‘ट्रैक्टर परेड' के दौरान हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी निर्धारित मार्ग से अलग हो गए थे और पुलिस के साथ उनकी झड़प हुई थी. अनेक प्रदर्शनकारी लालकिले में प्रवेश कर गए थे.


दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा इस मामले की जांच कर रही है और दोषियों की पहचान करने के लिए कई टीमें गठित की गई हैं. पुलिस ने लालकिला परिसर में तोड़फोड़ किए जाने की घटना को ‘‘राष्ट्र विरोधी गतिविधि'' बताया है. इस संबंध में एक अधिकारी ने कहा, ‘‘फॉरेंसिक विशेषज्ञों की एक टीम ने लालकिले का दौरा किया और साक्ष्य एकत्रित किए.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


केंद्र के नए कृषि कानूनों को रद्द करने की अपनी मांग के समर्थन में किसान संगठनों की ‘ट्रैक्टर परेड' के दौरान प्रदर्शनकारी किसानों की पुलिस के साथ झड़प हुई थी. अनेक प्रदर्शनकारी ट्रैक्टर चलाते हुए लालकिला परिसर पहुंच गए थे, जबकि उनमें से कुछ ने इस ऐतिहासिक स्मारक के गुंबदों और उस प्राचीर पर धार्मिक झंडा लगा दिया था, जहां देश के प्रधानमंत्री स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण करते हैं.