अपनी रक्षा जरूरतें पूरी करने के लिए हम दूसरे देशों पर निर्भर नहीं रह सकते: राजनाथ सिंह

रक्षा क्षेत्र में देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए DPSUs और OFB के तहत होने वाली मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा दिया जा रहा है. रक्षामंत्री ने कहा कि उनका दृढ़ विश्वास है कि DPSUs और OFB आत्मनिर्भर भारत अभियान को सबसे आगे लेकर बढ़ेंगे और राष्ट्रीय सुरक्षा में अहम भूमिका निभाएंगे.

अपनी रक्षा जरूरतें पूरी करने के लिए हम दूसरे देशों पर निर्भर नहीं रह सकते: राजनाथ सिंह

DPSUs और OFB के तहत होने वाली मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा.

नई दिल्ली:

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को आत्मनिर्भर सप्ताह के तहत DPSUs (Defence Public Sector Undertakings) Qj OFB (Ordnance Factory Board) के नए रक्षा उत्पादों का उद्घाटन किया. रक्षा क्षेत्र में देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए DPSUs और OFB के तहत होने वाली मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा दिया जा रहा है. रक्षामंत्री ने कहा कि उनका दृढ़ विश्वास है कि DPSUs और OFB आत्मनिर्भर भारत अभियान को सबसे आगे लेकर बढ़ेंगे और राष्ट्रीय सुरक्षा में अहम भूमिका निभाएंगे.

राजनाथ सिंह ने कहा कि 'किसी भी देश के विकास में सुरक्षा की नीति प्राथमिकता होती है. यह सब जानते हैं कि जो देश खुद की रक्षा करने में सक्षम हैं, वो वैश्विक स्तर पर अपनी छवि मजबूत कर पाए हैं. हम अपनी रक्षा जरूरतें पूरी करने के लिए दूसरे देशों, विदेशी निर्यातकों और विदेशी रक्षा उत्पादों पर निर्भर नहीं रह सकते हैं. यह एक मजबूत और आत्मनिर्भर भारत के उद्देश्यों और भावनाओं के साथ मेल नहीं खाता है.'

यह भी पढ़ें: डिफेंस एक्यूजेशन काउंसिल ने 8722.38 करोड़ रुपये की रक्षा खरीददारी को मंजूरी दी

उन्होंने कहा कि 'हमें हमारी अपनी जरूरतें पूरी करने में सक्षम होना होगा और जरूरत पड़ने पर दूसरों की मदद के लिए सक्षम बनना होगा. रक्षा क्षेत्र में किसी भी क्षेत्र से ज्यादा आत्मनिर्भरता की जरूरत है. हमें आधुनिक मैनेजमेंट तकनीक, तकनीकी मिश्रण और परस्पर सहयोग की जरूरत है.'

उन्होंने कहा, 'इसी उद्देश्य से सरकार ने OFB का कॉरपोरेटकरण करने की ओर कदम बढ़ाए हैं. मुझे विश्वास है कि इससे क्षेत्र में कीमतों पर नियंत्रण की प्रवृति खत्म करने और कॉरपोरेट मैनेजमेंट और सिस्टम के मुताबिक ढलने में मदद मिलेगी.'

Video: आत्मनिर्भर भारत : अब देश में बनेंगे 101 हथियार


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com