राजस्थान संकट को लेकर गहलोत का PM मोदी और BJP पर हमला- 'जो गलती करेगा उसे कीमत चुकानी होगी'

Rajasthan Political Crisis : अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने राजस्थान में मौजूदा संकट के लिए भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि चुनी हुई सरकारों को गिराने का इरादा छोड़ें, तब जाकर लोकतंत्र मजबूत होगा. नहीं तो आने वाला इतिहास किसी को माफ नहीं करेगा.

राजस्थान संकट को लेकर गहलोत का PM मोदी और BJP पर हमला- 'जो गलती करेगा उसे कीमत चुकानी होगी'

Rajasthan Political Crisis : PM मोदी के साथ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Rajasthan Political Crisis : राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) और प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला. कांग्रेस (Congress) द्वारा चलाए जा रहे अभियान 'स्पीक अप फॉर डेमोक्रेसी' के तहत गहलोत ने देश के मौजूदा हालात पर चिंता जताई. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस दौरान कहा कि प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) और उनकी पार्टी (BJP) को सोचना पड़ेगा कि चुनी हुई सरकारों को गिराने का इरादा छोड़ें, तब जाकर लोकतंत्र मजबूत होगा. नहीं तो आने वाला इतिहास किसी को माफ नहीं करेगा. गहलोत ने कहा कि जो 'गलती करेगा उसे उसकी कीमत चुकानी पड़ेगी.'
 

यह भी पढ़ें: अशोक गहलोत ने PM मोदी को लिखा खत, कहा- 'मेरी सरकार गिराने की हो रही कोशिश'

उन्होंने कहा कि, आज पूरा मुल्क चिंतित है क्योंकि डेमोक्रेसी खतरे में है. #SpeakUpForDemocracy प्रोग्राम जो चलाया गया इसके मायने हैं, इसका अपना संदेश है. उसको एक तरफ आम जनता को भी समझना पड़ेगा और दूसरी तरफ जो हुकूमत में हैं उनको भी समझना पड़ेगा. आज जिस प्रकार का माहौल देश के अंदर है वो चिंताजनक है. 

यह भी पढ़ें: राजस्थान संकट को लेकर BJP पर राहुल गांधी का हमला - Tweet कर लोगों से की यह अपील...

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद कई प्रधानमंत्री आए और कई चले गए. सबने लोकतंत्र को मजबूत किया. लेकिन आज देश में जिस प्रकार का माहौल है वह चिंताजनक है. जिस प्रकार से देश में चुनी हुई सरकारें गिराईं जा रही है..कर्नाटक में... महराष्ट्र में क्या हुआ यह सबको पता है. मध्यप्रदेश में क्या हुआ वह भी सबको मालूम है. राजस्थान में सरकार विधानसभा में जाने की परमिशन मांग रही है और राज्यपाल का जवाब अभी तक नहीं आया है. उम्मीद है राज्यपाल शीघ्र ही हमें आदेश देंगे और हम विधानसभा सत्र बुलाएंगे.

यह भी पढ़ें: क्या कानूनी रूप से होना चाहिए राजस्थान मुद्दे का हल? इसे लेकर कांग्रेस में एक राय नहीं : सूत्र

उन्होंने कहा कि आज जैसा समय है उसमें केंद्र सरकार हो, राज्य सरकार हो या फिर कोई राजनीतिक दल हो सबको मिलकर कोरोना से जंग जीतना है. जीवन बचाना हम सब का कर्तव्य है. पूरे देश में कोरोना की संख्या तेजी से बढ़ रही है यह चिंता का विषय है. इसे कैसे उसे रोका जाए, इस पर हमें चिंतन करना चाहिए. लेकिन मुझे दुख होता है कि कोरोना की जंग के समय भी अगर आप राजनीति करें, ऐसी गतिविधि करें जो डेमोक्रेसी के खिलाफ हो...आपने कर्नाटक की सरकार गिरा दी..मध्यप्रदेश की सरकार गिराने में कामयाब हो गए. ये सब कोरोना संकट के दौरान ही हुआ. अशोक गहलोत ने कहा कि पूरा देश चिंतित है. प्रदेश चिंतित है और विचलित है. मैं उम्मीद करता हूं कि वे लोग इस बात को समझेंगे. 

यह भी पढ़ें: 'राहुल ब्रिगेड' ही बनी कांग्रेस के लिए सिरदर्द? एक नेता ने कहा- कहीं न कहीं गड़बड़ तो है


उन्होंने कहा कि आज देश एकजुट है मजबूत है इसलिए नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बन पाए हैं. अगर लोकतंत्र मजबूत नहीं होता और पाकिस्तान जैसे हालात होते तो शायद नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं बन पाते. उनको सोचना पड़ेगा, उनकी पार्टी को सोचना पड़ेगा कि चुनी हुई सरकारों को गिराने का इरादा छोड़ें, तब जाकर लोकतंत्र मजबूत होगा. वरना आने वाला इतिहास किसी को माफ नहीं करेगा और जो गलती करेगा उसे उसकी कीमत चुकानी पड़ेगी.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: राज्यपाल को मिला CM गहलोत का नया प्रस्ताव