प्रियंका गांधी ने नाम लिए बिना BSP पर साधा निशाना, बताया BJP का अघोषित प्रवक्ता

Rajasthan Political Crisis: कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) ने कहा कि भाजपा के अघोषित प्रवक्ताओं ने बीजेपी को मदद की व्हिप जारी की है.  माना जा रहा है कि उनका इशारा BSP की ओर है.

प्रियंका गांधी ने नाम लिए बिना BSP पर साधा निशाना, बताया BJP का अघोषित प्रवक्ता

प्रियंका गांधी का नाम लिए बगैर मायावती पर निशाना (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Rajasthan Political Crisis: राजस्थान के सियासी संकट के बीच कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने बड़ा हमला बोला है. उन्होंने कहा कि भाजपा के अघोषित प्रवक्ताओं ने भाजपा को मदद की व्हिप जारी की है.  माना जा रहा है कि उनका इशारा बहुजन समाज पार्टी (BSP) की ओर है. साथ ही कहा व्हिप जारी करके इन लोगों ने लोकतंत्र और संविधान की हत्या करने वालों को क्लीन चिट दी है. प्रियंका गांधी राजस्थान में चल रहे सियासी संग्राम को लेकर ट्विटर पर काफी एक्टिव हैं.

प्रियंका गांधी ने मंगलवार को अपने ट्वीट में लिखा- "भाजपा के अघोषित प्रवक्ताओं ने भाजपा को मदद की व्हिप जारी की है. लेकिन ये केवल व्हिप नहीं है बल्कि लोकतंत्र और संविधान की हत्या करने वालों को क्लीन चिट है."

बता दें कि राजस्थान में गहलोत खेमे और पायलट गुट के बीच चल रही जोर-अजमाइश के मध्य बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने पिछले साल कांग्रेस (Congress) में शामिल होने के लिए पार्टी छोड़ने वाले 6 विधायकों को विधानसभा में शक्ति परीक्षण के दौरान गहलोत के खिलाफ मतदान करने का रविवार को व्हिप जारी किया है. 

व्हिप को लेकर विधायक लखन मीणा ने बीएसपी पर सवाल उठाते हुए कहा था कि बसपा को एक साल बाद हमारी याद क्यों आई. उन्होंने कहा कि हमने जो किया कानून के आधार पर किया, विलय के लिए दो तिहाई विधायक चाहिए होते हैं. हम तो सारे 6 विधायक कांग्रेस में आ गए थे. उन्होंने आरोप लगाया कि बीएसपी, बीजेपी के कहने पर ये सब कर रही है, उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस की चुनी हुई सरकार को अस्थिर करने की कोशिश है.

जरूरत पड़ी तो सुप्रीम कोर्ट जाएंगे: मायावती
समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, बसपा प्रमुख मायावती ने मंगलवार को कहा कि बसपा पहले भी अदालत जा सकती थी लेकिन हम कांग्रेस और सीएम अशोक गहलोत को सबक सिखाने के लिए सही समय का इंतजार कर रहे थे. अब हमने कोर्ट जाने का फैसला किया है. हम इस मामले को ऐसे ही नहीं छोड़ेंगे. जरूरत पड़ी तो हम सुप्रीम कोर्ट भी जाएंगे.
 (एएनआई इनपुट के साथ)   


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com