राज कुंद्रा ने पुलिस को गिरफ्तार न करने के लिए 25 लाख रुपये दिए : मार्च में फरार आरोपी ने की थी ACB से शिकायत

राज कुंद्रा का नाम अश्लील फिल्म रैकेट के मामले में मार्च महीने में ही आ गया था, लेकिन गिरफ्तारी अब जाकर हुई है. वहीं मुंबई पुलिस ने इस मामले पर कहा था कि उस समय उनके खिलाफ ठोस सबूत नहीं मिले थे.

राज कुंद्रा ने पुलिस को गिरफ्तार न करने के लिए 25 लाख रुपये दिए : मार्च में फरार आरोपी ने की थी ACB से शिकायत

अश्लील फिल्म बनाने और ऐप पर पब्लिश करने के मामले में राज कुंद्रा पुलिस हिरासत में हैं.

मुंबई:

अश्लील फिल्म बनाने और ऐप पर उसे पब्लिश करने के मामले में अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी  (Shilpa Shetty) के पति राज कुंद्रा (Raj Kundra) को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इस केस में अब एक नया मोड़ आया है. पता चला है कि मामले में एक फरार आरोपी ने एसीबी को मेल के जरिए शिकायत की थी कि मामले में राज कुंद्रा को गिरफ्तार नहीं करने के लिए मुंबई पुलिस ने 25 लाख रुपये लिए थे. शिकायत के मुताबिक उस पर भी दबाव बनाया जा रहा है. एसीबी सूत्रों के मुताबिक- मार्च महीने में इस आशय के चार मेल आए थे, लेकिन आरोप को आधार देने के लिए कोई सबूत नहीं थे और पैसे दे दिए जाने की बात थी. इसलिए एसीबी ने इस शिकायत को मुंबई पुलिस को फॉरवर्ड कर दिया था.


बता दें कि राज कुंद्रा का नाम अश्लील फिल्म रैकेट के मामले में मार्च महीने में ही आ गया था, लेकिन गिरफ्तारी अब जाकर हुई है. वहीं मुंबई पुलिस ने इस मामले में कोई भी बयान देने से इनकार किया है.  4 फरवरी को एक गुप्त सूचना मिली थी, जिसका पीछा करते हुए पुलिस ने नॉर्थ मुंबई के लोकप्रिय बीच मड आइलैंड स्थित बंगले पर छापेमारी की थी. यहां पांच लोग पोर्न फिल्म की शूटिंग कर रहे थे. पांचों को गिरफ्तार कर लिया गया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस के मुताबिक- जब दो लोगों के साथ अंतरंग मुद्रा में नग्न दृश्य फिल्माया जा रहा था, उसी समय पुलिस ने छापा मारा. बंगले से छुड़ाई गई महिला शिकायतकर्ता बन गई, जिसके बाद जांच ठप पड़ गई. इस छापेमारी के कुछ दिनों बाद पुलिस ने दो और लोगों को पोर्न फिल्मों के निर्माता रोवा खान और अभिनेत्री गहना विशिष्ठ को गिरफ्तार किया गया. इसके बाद पुलिस जांच जल्द ही उन ऐप्स पर शिफ्ट हो गई, जिन पर अश्लील क्लिप अपलोड या साझा की जाती थीं, खासकर 'हॉटशॉट्स'. यहीं से पुलिस को उमेश कामत का पता लगा, जो यूके स्थित फर्म केनरिन प्राइवेट लिमिटेड के लिए काम करता था. उमेश कामत राज कुंद्रा के पूर्व निजी सहायक थे और उन्होंने ही कथित तौर पर पूछताछ के दौरान उनका नाम लिया. कामत की गिरफ्तारी और उसके बाद की जांच ने पुलिस को राज कुंद्रा तक पहुंचा दिया. पुलिस का ये भी कहना है कि फिल्मों की शूटिंग मुंबई में किराए के घरों और होटलों में की जाती थी. मॉडल्स को कथित तौर पर फिल्म या वेब सीरीज ऑफर के वादे के साथ बुलाया जाता था और फिर उन्हें पोर्न शूट करने के लिए मजबूर किया जाता था.