...जब फ्लाइट में आमने-सामने आए प्रियंका गांधी और अखिलेश यादव, फोटो तेजी से हो रही वायरल

प्रियंका गांधी दिल्ली से लखनऊ होते हुए बाराबंकी जाने के लिए फ्लाइट में सफर कर रही थीं. जहां वह शनिवार को कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगीं.

...जब फ्लाइट में आमने-सामने आए प्रियंका गांधी और अखिलेश यादव, फोटो तेजी से हो रही वायरल

तस्वीर में दोनों वरिष्ठ नेता मास्क पहनकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए नजर आ रहे हैं.

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां तैयारियों में जुटी हैं. इस बीच शुक्रवार को दिल्ली-लखनऊ फ्लाइट (Delhi-Lucknow Flight) के अंदर की एक तस्वीर सामने आई है. जिसमें कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) और समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) दूर से एक दूसरे का अभिवादन कर रहे हैं. वायरल हो रही इस तस्वीर में दोनों वरिष्ठ नेता मास्क पहनकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए नजर आ रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक प्रियंका गांधी दिल्ली से लखनऊ होते हुए बाराबंकी जाने के लिए फ्लाइट में सफर कर रही थीं. जहां वह शनिवार को कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगीं और लोगों को अपनी सात प्रतिज्ञाओं के बारे में जानकारी देंगी. वहीं अखिलेश यादव दिल्ली से लखनऊ के लिए सफर रह रहे थे.

कांग्रेस की 'प्रतिज्ञा यात्रा' के जरिए UP में कल सियासी बिगुल फूंकेंगी प्रियंका गांधी, 6 प्रतिज्ञाओं का भी करेंगी ऐलान

बता दें कि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी लगातार यूपी की योगी सरकार पर निशाना साध रही है. भाजपा को हराने के लिए दोनों पार्टियों ने 2017 विधानसभा चुनाव के लिए गठबंधन भी किया था, जो कि कुछ खास साबित नहीं हो सका. गत चुनाव में कांग्रेस को महज सात सीटें मिली थीं, जबकि सपा के खाते में सिर्फ 47 सीटें ही आईं. जून में एनडीटीवी से बातचीत करते हुए अखिलेश ने कहा था कि 2017 गठबंधन में हमने कांग्रेस को 100 सीटें दी थीं, लेकिन यूपी की जनता ने कांग्रेस को नकार दिया. जिसके चलते हम आगे कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेंगे.

प्रियंका गांधी वाड्रा का ऐलान, 'यूपी में कांग्रेस की सरकार बनी तो छात्राओं को स्मार्टफोन और स्कूटी देंगे'


वहीं प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस भी यूपी चुनाव को लेकर कड़ी मेहनत कर रही है. प्रदेश के तमाम मुद्दों को लेकर वह लगातार भाजपा सरकार ने सवाल उठाती नजर आ रही हैं. वहीं लखीमपुर खीरी मामले को लेकर उन्होंने अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती पर भी निशाना साधा. जिससे माना जा रहा है कि कांग्रेस भी सपा के साथ गठबंधन के पक्ष में नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मृतक सफाईकर्मी के परिवार से मिलीं प्रियंका गांधी, हर संभव मदद का दिया भरोसा