'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन' के ग्रैंड फिनाले को आज संबोधित करेंगे PM मोदी, छात्रों से करेंगे बातचीत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) शनिवार शाम को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020' (Smart India Hackathon 2020) के ग्रैंड फिनाले को संबोधित करेंगे.

'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन' के ग्रैंड फिनाले को आज संबोधित करेंगे PM मोदी, छात्रों से करेंगे बातचीत

पीएम मोदी छात्रों से बातचीत भी करेंगे. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • 'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020' का ग्रैंड फिनाले
  • कार्यक्रम को संबोधित करेंगे PM नरेंद्र मोदी
  • प्रधानमंत्री मोदी छात्रों से बातचीत भी करेंगे
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) शनिवार शाम को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020' (Smart India Hackathon 2020) के ग्रैंड फिनाले को संबोधित करेंगे. इस अवसर पर वे छात्रों के साथ बातचीत भी करेंगे. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने शनिवार को कहा कि स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन आत्मनिर्भर भारत, दैनिक जीवन एवं गांव की समस्याओं के समाधान के लिए युवाओं को एक मंच प्रदान करता है और इससे वे पिछले वर्षो में लाभाकारी चीजों को बाजार में लाने में सफल रहे हैं.

रमेश पोखरियाल निशंक ने 'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020' के ग्रैंड फिनाले के सॉफ्टवेयर एडिशन की शुरूआत करते हुए यह बात कही. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत की शुरूआत की है और आत्मनिर्भर भारत गांव से शुरू होता है. उन्होंने कहा, 'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन में बच्चों के विचार और अनुसंधान मूल रूप से गांव की समस्याओं पर केंद्रित हैं. ये ऐसे विचार हैं जो आत्मनिर्भर भारत और गांव की समस्याओं के समाधान का रास्ता प्रदान करते हैं.'

नरेंद्र मोदी की सरकार राजीव गांधी की सरकार की तरह घुटने नहीं टेकती : मुख्तार अब्बास नकवी

निशंक ने कहा कि ऐसे समय में जब देश-दुनिया कोविड-19 महामारी के संकट से जूझ रही है, तब हैकाथॉन के माध्यम से बच्चों ने औषधि के क्षेत्र में खोज की दिशा में काम किया है. उन्होंने कहा कि स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन के माध्यम से छात्र-छात्राओं के अनुसंधान के आधार पर हम कम समय में लाभकारी चीजों को बाजार में लाने में सफल रहे हैं. इस अवसर पर शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे, एआईसीटीई के अध्यक्ष अनिल सहस्रबुद्धे और सचिव अमित खरे आदि भी मौजूद थे.

मोदी सरकार की नई शिक्षा नीति पर शिवसेना का बयान- ये राफेल से ज्यादा जरूरी, लेकिन...

मंत्रालय के बयान अनुसार, स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2017 के पहले संस्करण में 42,000 छात्रों की भागीदारी थी, जो 2018 में बढ़कर 1 लाख और 2019 में 2 लाख के पार हो गई. 'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020' के पहले दौर में 4.5 लाख से अधिक छात्रों ने भाग लिया. इसमें कहा गया है कि इस वर्ष सॉफ्टवेयर संस्करण का ग्रैंड फिनाले पूरे देश में सभी प्रतिभागियों को एक विशेष रूप से निर्मित उन्नत प्लेटफॉर्म पर एक साथ जोड़कर ऑनलाइन आयोजित किया जा रहा है. 37 केंद्रीय सरकारी विभागों, 17 राज्य सरकारों और 20 उद्योगों की 243 समस्याओं को हल करने के लिए 10,000 से अधिक छात्र प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं.


VIDEO: 34 साल बाद आई नई शिक्षा नीति

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)