कोरोना संकटः ऑक्सीजन और दवा को लेकर पीएम मोदी ने की हाई लेवल मीटिंग, ब्लैक फंगस पर भी हुई चर्चा

कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) से पूरे देश की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है. ऑक्सीजन (Oxygen) और दवाओं की कमी को लेकर रोज लापरवाही के मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने कोरोना मरीजों को दी जा रही मेडिकल सुविधाओं की समीक्षा के लिए उच्च स्तरीय बैठक की है.

कोरोना संकटः ऑक्सीजन और दवा को लेकर पीएम मोदी ने की हाई लेवल मीटिंग, ब्लैक फंगस पर भी हुई चर्चा

ऑक्सीजन और दवा को लेकर पीएम मोदी ने की हाई लेवल मीटिंग।

नई दिल्ली:

कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) से पूरे देश की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है. ऑक्सीजन (Oxygen) और दवाओं की कमी को लेकर रोज लापरवाही के मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने कोरोना मरीजों को दी जा रही मेडिकल सुविधाओं की समीक्षा के लिए उच्च स्तरीय बैठक की है. पीएम ने बैठक में ऑक्सीजन और दवाओं की उपलब्धता और इसकी आपूर्ति की समीक्षा की. बैठक में जानकारी दी गई कि पहली लहर के चरम के मुकाबले अभी दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की सप्लाई 3 गुना से अधिक है. पीएमओ के मुताबिक पीएम को जानकारी दी गई कि सरकार कोविड के प्रबंधन के साथ-साथ म्यूकोर्मोसिस में इस्तेमाल की जा रही दवाओं की आपूर्ति की भी सक्रिय रूप से निगरानी कर रही है.

बैठक में प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि राज्य सरकारों को समयबद्ध तरीके से वेंटिलेटर के संचालन के लिए कहा जाये. पीएम ने कहा कि राज्य सरकारें वेंटिलेटर निर्माताओं की मदद से तकनीकी और प्रशिक्षण मुद्दों को हल करने की पहल करें. पीएम की तरफ से ये निर्देश ऐसे वक्त पर आया है जब पंजाब सरकार के मुताबिक प्रधानमंत्री केयर फंड की तरफ से राज्य को सप्लाई किए गए 809 वेंटिलेटर में से 309 नॉन-ऑपरेशनल हैं और 174 नॉन-फंक्शनल हैं.

पीएमओ की तरफ से जारी एक रिलीज के मुताबिक बैठक में पीएम ने देश में ऑक्सीजन की उपलब्धता और आपूर्ति की स्थिति का जायजा लिया. पीएम को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स, ऑक्सीजन सिलेंडरों की खरीद की स्थिति के साथ-साथ देश भर में लगाए जा रहे पीएसए प्लांट्स की स्थिति के बारे में भी बताया गया. बैठक में भारतीय रेल की ऑक्सीजन ट्रेनों और वायुसेना के विमानों द्वारा देश के अलग-अलग हिस्सों में की जा रही ऑक्सीजन की सप्लाई के बारे में भी बताया गया. अभी तक 100 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों की मदद से 9 राज्यों को मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई की जा चुकी है.


पीएमओ के मुताबिक पीएम को जानकारी दी गई कि सरकार कोविड के प्रबंधन के साथ-साथ म्यूकोर्मोसिस में इस्तेमाल की जा रही दवाओं की आपूर्ति की भी सक्रिय रूप से निगरानी कर रही है. मंत्री ने पीएम को अपडेट किया कि वे उत्पादन बढ़ाने और सभी प्रकार की आवश्यक मदद का विस्तार करने के लिए निर्माताओं के साथ नियमित संपर्क में हैं. बैठक में राज्यों को सप्लाई की जा रही दवाओं और पिछले कुछ हफ्तों में रेमेडेसिविर सहित सभी दवाओं के उत्पादन में हुई बढ़ोतरी की भी समीक्षा की गयी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हॉट टॉपिक : UP में धूल फांक रहे PM CARES Fund के वेंटिलेटर