विपक्ष के दो नेताओं गुलाम नबी आजाद और बुद्धदेव भट्टाचार्य को पद्म सम्‍मान

73वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर केंद्र द्वारा घोषित पद्म पुरस्कार विजेताओं की सूची में विपक्षी दलों के दो प्रमुख नेता- वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद और सीपीएम के बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य शामिल हैं.

विपक्ष के दो नेताओं गुलाम नबी आजाद और बुद्धदेव भट्टाचार्य को पद्म सम्‍मान

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता गुलाम नबी आजाद (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

73वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर केंद्र द्वारा घोषित पद्म पुरस्कार (Padma awards) विजेताओं की सूची में विपक्षी दलों के दो प्रमुख नेता- वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) और सीपीएम के बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य (Buddhadeb Bhattacharjee) शामिल हैं. दोनों को पद्म भूषण से नवाजा गया. हालांकि बाद में बुद्धदेव भट्टाचार्य ने पुरस्‍कार लौटाने की घोषणा कर दी.

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को मरणोपरांत देश के दूसरे सर्वोच्‍च नागरिक सम्‍मान पद्म विभूषण से नवाजा गया. इस कदम को आगामी यूपी चुनावों से जोड़कर देखा जा सकता है. जम्मू-कश्मीर के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के लिए यह पुरस्कार नेतृत्व के मुद्दों पर कांग्रेस के भीतर मंथन के बीच आया है. आज़ाद पार्टी के दिग्गजों में से एक रहे हैं, जो व्यापक संगठनात्मक परिवर्तन और एक स्थायी जवाबदेह नेतृत्व कहते हैं.

पार्टी पहले ही कई वरिष्ठ नेताओं को खो चुकी है - एक पलायन जो मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके 22 वफादारों के बाहर निकलने के साथ शुरू हुआ. इसके बाद जो बड़े नाम चले गए उनमें पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, जितिन प्रसाद और अब आरपीएन सिंह भी शामिल हैं.

हालांकि, आज़ाद पहले ही पार्टी छोड़ने की सभी अटकलों पर विराम लगा चुके हैं और खुद को "24 कैरेट का कांग्रेसी" बता चुके हैं.

आजाद की पार्टी के सहयोगी शशि थरूर ने पद्म पुरस्‍कारों की घोषणा के तुरंत बाद ट्वीट किया, "श्री @ghulamnazad को उनके पद्म भूषण पर हार्दिक बधाई. दूसरे पक्ष की सरकार द्वारा भी किसी की सार्वजनिक सेवा के लिए पहचाना जाना अच्छा है."

बुद्धदेव भट्टाचार्य ने 2011 में ममता बनर्जी और उनकी तृणमूल कांग्रेस के हाथों भारी हार का सामना करने तक बंगाल में अपने गढ़ में सीपीएम की सरकार का नेतृत्व किया. 

पद्म पुरस्कार पाने वाल अन्य हस्‍त‍ियों में भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, जिनकी पिछले साल एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मृत्‍यु हो गई थी, वैक्सीन निर्माता कृष्णा एला, सुचित्रा एला, साइरस पूनावाला और भारतीय मूल के सिलिकॉन वैली टाइटन्स सत्य नडेला और सुंदर पिचाई शामिल हैं.

शास्त्रीय गायक डॉ परभा अत्रे और राशिद खान का नाम भी इस सूची में है.

खिलाड़ियों में इस सूची में ओलिंपिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा, पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया, सुमित अंतिल और प्रमोद भगत शामिल हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस साल की सूची में चार पद्म विभूषण, 17 पद्म भूषण और 107 पद्मश्री पुरस्कार शामिल हैं. सरकारी घोषणा में कहा गया है कि पुरस्कार पाने वालों में 34 महिलाएं और 13 मरणोपरांत पुरस्कार विजेता हैं.