कोविशील्ड वैक्सीन सर्टिफिकेट में कोई समस्या नहीं : ब्रिटेन की आपत्तियों पर बोले भारतीय अफसर

Vaccine Certificate : नेशनल हेल्थ अथॉरिटी के सीईओ आरएस शर्मा ने कहा कि कोविन ऐप या वैक्सीन सर्टिफिकेट प्रक्रिया में कोई कोई दिक्कत नहीं है.

कोविशील्ड वैक्सीन सर्टिफिकेट में कोई समस्या नहीं : ब्रिटेन की आपत्तियों पर बोले भारतीय अफसर

Covishield को ब्रिटेन ने दी मंजूरी पर वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर खड़ी की आपत्ति

नई दिल्ली:

ब्रिटेन ने कोविशील्ड वैक्सीनेशन (Covishield Vaccine Certificate) के आधार पर उनके देश की यात्रा के लिए मंजूरी तो दे दी है, लेकिन अब वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर सवाल खड़े कर दिए हैं. हालांकि भारत के शीर्ष अधिकारियों ने स्पष्ट कह दिया है कि वैक्सीन सर्टिफिकेट में कहीं कोई समस्या नहीं है. ब्रिटेन की शीर्ष सलाहकारी संस्था ने ताजा गाइडलाइन में कहा है कि ब्रिटेन में सूचीबद्ध चार वैक्सीनों जैसे एस्ट्राजेनेका कोविशील्ड (AstraZeneca Covishield) एक मान्यताप्राप्त वैक्सीन है, लेकिन अब वैक्सीनेशन सर्टिफिकेशन का मुद्दा अटक गया है.

'हम भी वैसा ही करेंगे' : UK की वैक्सीन नीति को लेकर विवाद पर सरकार ने चेताया

नेशनल हेल्थ अथॉरिटी के सीईओ आरएस शर्मा ने कहा कि कोविन ऐप या वैक्सीन सर्टिफिकेट प्रक्रिया में कोई कोई दिक्कत नहीं है. गौरतलब है कि भारत में बनी कोविशील्ड वैक्सीन से टीकाकरण कराने वालों को थोड़ी राहत तो मिली है, लेकिन ब्रिटेन ने कह दिया है कि भारतीयों को अभी क्वारंटाइन की प्रक्रिया से गुजरना होगा. शर्मा ने NDTV से बातचीत में कहा कि कोविन ऐप (CoWin App) का सर्टिफिकेशन सिस्टम पूरी तरह से डब्ल्यूएचओ के मानकों के अनुरूप है. हम लगातार अंतरराष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन से भी बातचीत करते रहे हैं.

ब्रिटेन के उच्चायुक्त भी 2 सितंबर को उनसे मिले थे. वो कोविन ऐप के सर्टिफिकेशन सिस्टम, तकनीकी पहलुओं को समझना चाहते थे. तमाम जानकारी इकट्टा की गीं और उसके बाद दो दौर की वार्ता उनकी टीम के साथ की गई. यह तकनीकी स्तर का संवाद था. ब्रिटिश उच्चायोग ने कहा, हम लगातार भारत सरकार के संपर्क में हैं, ताकि ब्रिटेन के सर्टिफिकेशन सिस्टम का दायरा बढ़ाने का रास्ता तलाशा जा सके. 


मोदी सरकार के कड़े रुख के बाद ब्रिटिश सरकार कोविशील्ड को मान्यता देने पर राजी हो गई है. भारत के जवाबी कार्रवाई की चेतावनी के बाद ब्रिटेन ने भारत में कोविशील्ड की दोनों वैक्सीन ले चुके लोगों को ब्रिटेन यात्रा (travel policy) के लिए मंजूरी तो दे दी है, लेकिन अब वैक्सीन सर्टिफिकेट (vaccination certification) पर ऐतराज जता दिया है.  जबकि अमेरिका और विश्व के तमाम अन्य देश कोविशील्ड की दोनों डोज ले चुके भारतीय नागरिकों को यात्रा के लिए मंजूरी पहले ही दे चुके हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ब्रिटिश सरकार ने नई गाइडलाइन में इंडिया के वैक्सीन सर्टिफिकेट को समस्या बताया गया है. ब्रिटेन ने नई ट्रेवल पॉलिसी में कोविशील्ड को मान्यता प्राप्त वैक्सीन का दर्जा दिया है, लेकिन कहा है कि दोनों डोज लगवा चुके भारतीयों को अभी भी क्वारंटाइन से गुजना पड़ेगा.