लापरवाही के मामले में NCB ने निलंबित किए दो अधिकारी

मुख्य जांच अधिकारी सुपरिटेंडेंट वीवी सिंह और इंटेलीजेंस ऑफिसर आशीष रंजन प्रसाद को तत्काल प्रभाव से निलंबित  किया गया. काम में लापरवाही और गड़बड़ी के चलते यह कार्रवाई की गई है. 

लापरवाही के मामले में NCB ने निलंबित किए दो अधिकारी

NCB के दो अधिकारियों को निलंबित किया गया

मुंबई :

नारकोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो (NCB) के दो अधिकारियों को लापरवाही के मामले में निलंबित किया गया. जानकारी के अनुसार, आर्यन केस से जुड़े मुख्य जांच अधिकारी सुपरिटेंडेंट वीवी सिंह और इंटेलीजेंस ऑफिसर आशीष रंजन प्रसाद को तत्काल प्रभाव से निलंबित  किया गया. काम में लापरवाही और गड़बड़ी के चलते यह कार्रवाई की गई है. 

गौरतलब है कि एनसीबी ने क्रूज ड्रग्‍स मामले में आर्यन खान समेत 19 अन्य लोगों को आरोपी बनाया था. एनसीबी ने तीन अक्टूबर को आर्यन को मुंबई के तटीय इलाके में एक क्रूज जहाज से गिरफ्तार किया था. हालांकि, बाद में बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया था.पिछले साल नवंबर में आर्यन की जमानत का आदेश जारी करते हुए  हाईकोर्ट ने कहा था कि आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा के बीच नशीली दवाओं से संबंधित अपराध करने की साजिश का कोई सबूत नहीं है. कोर्ट ने कहा था  कि उनके बीच व्हाट्सऐप पर हुई बातचीत में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं पाया गया.

आदेश में कहा गया था कि "इस न्यायालय को यह समझाने के लिए रिकॉर्ड पर शायद ही कोई सकारात्मक सबूत है कि सभी आरोपी व्यक्ति सामान्य इरादे से गैरकानूनी कार्य करने के लिए सहमत हुए."अदालत ने जमानत देने का औचित्य को समझाया. कोर्ट ने कहा कि "सिर्फ इसलिए कि आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा एक ही क्रूज में यात्रा कर रहे थे, यह अपने आप में उन पर साजिश रचने के आरोप का आधार नहीं हो सकता है." 

- ये भी पढ़ें -

* राज ठाकरे के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज, सभा के दौरान लहराई थी तलवार
* बीजेपी के खिलाफ कोई भी फ्रंट हो, कांग्रेस के बिना नहीं बन सकता : शरद पवार
* "Superb": विदेश मंत्री की रूस से तेल खरीद पर तीखी टिप्पणी की विपक्षी सांसद ने की तारीफ

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


खरगोन: आंख में आंसू और कांपते हाथों से बताया कैसे तोड़ा पीएम आवास योजना में बना मकान