नवजोत सिद्धू ने अमरिंदर सिंह को बताया गद्दार, कहा- उन्हें कांग्रेस पार्टी से बाहर निकाल फेंका

नवजोत सिद्धू ने पंजाब में कांग्रेस के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार पर कहा, वो कांग्रेस पार्टी के सिपाही हैं और मुख्यमंत्री का फैसला हाईकमान को करना है. हाईकमान पर उन्होंने भरोसा जताया.

नई दिल्ली:

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिद्धू ने सियासत में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी कैप्टन अमरिंदर सिंह पर तीखा हमला बोला है. पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर तीखा हमला किया है. उन्होंने NDTV से बातचीत के दौरान कुछ सवालों का जवाब देते हुए कहा , "जब आपका कैप्टन विरोधियों के हाथ की कठपुटली बन जाए, जब वो अपनी जान बचाने के लिए जकरांदा ट्रस्ट से बचने के लिए, ईडी से बचने के लिए कांग्रेस को बेचे, पंजाब को बेचे, धंधा करने के लिए, जो अपने दुश्मनों के साथ हाथ मिलाकर 75-25 खेले...तो फिर वो कैप्टन-कैप्टन नहीं है वो गद्दार है."

नवजोत सिंह सिद्धू ने सत्ता छोड़ी है, किसी ने सरपंची छोड़ी है तो बताओ. कैप्टन तो बिका हुआ आदमी है. गोदी मीडिया गोद में बैठकर चिल्लाता है, बंगाल में भी क्या हुआ, सब जानते हैं. सिद्धू ने कहा कि अगर मैं कोई घपला किया होता तो ईडी ठोक देती. इसीलिए सिद्धू खुलकर बोलता है. पंजाब के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार पर सिद्धू ने कहा कि पंजाब की जनता तय करेगी धरतीपुत्र कौन होगा. पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पर पूरा भरोसा है. उन्होंने राहुल गांधी को 24 कैरेट खरा सोना बताया और यह भी कहा कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने हर परीक्षा में भी बेदाग होकर निकलेंगी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पंजाब विधानसभा चुनाव में इस बार चौतरफा मुकाबला माना जा रहा है, कांग्रेस की वहां सरकार है. आम आदमी पार्टी पूरी ताकत झोंक रही है. अकाली दल-बसपा का गठबंधन है. पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बीजेपी के साथ गठजोड़ तैयार किया है. उसने अपने दुश्मनों से हाथ मिलाया था. 78 विधायकों में से एक भी उसके साथ नहीं था. जब अमरिंदर ने पहले सरकार बनाई थी तो 780 वोट मिले थे और सोनिया गांधी से जाकर मिला था और उसे दोबार मुख्यमंत्री बनाया गया. लेकिन उसने पंजाब को बेचने के अलावा कुछ नहीं किया. कांग्रेस विधायकों के संपर्क में होने के कैप्टन के दावे पर नवजोत सिद्धू ने कहा कि उनकी घरवाली भी उनके साथ नहीं है. जिस दिन निकाला गया, उस दिन अमरिंदर सिंह के साथ कितने लोग खड़े थे. अमरिंदर सिंह की बाउंसरों के सवाल पर सिद्धू ने कहा कि वो दगा हुआ कारतूस हैं.