नगालैंड सरकार AFSPA वापस लेने के लिए केंद्र से करेगी अपील, 14 ग्रामीणों की मौत के बाद लिया फैसला

यह फैसला नगालैंड में सुरक्षाबलों के एक स्पेशल ऑपरेशन के दौरान 14 ग्रामीणों की मौत के बाद किया गया है.

नगालैंड सरकार AFSPA वापस लेने के लिए केंद्र से करेगी अपील, 14 ग्रामीणों की मौत के बाद लिया फैसला

कोहिमा:

नगालैंड सरकार AFSPA कानून वापस लेने के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखेगी. नगालैंड कैबिनेट ने यह फैसला मंगलवार सुबह एक जरूरी बैठक में लिया है. यह फैसला नगालैंड में सुरक्षाबलों के एक स्पेशल ऑपरेशन के दौरान गलत पहचान के चलते 14 ग्रामीणों की मौत के बाद लिया गया है. बता दें, इस कानून के तहत अशांत क्षेत्रों में सेना को व्यापक अधिकार दिए गए हैं. 

वहीं, नगालैंड सरकार ने हॉर्नबिल फेस्टिवल (HORNBILL FESTIVAL) को बंद करने का फैसला किया है. 10 दिन के हॉर्नबिल फेस्टिवल का आज छठा दिन है. इसमें देश विदेश से हजारों की संख्या में पर्यटक पहुंचे थे.

नगालैंड के मुख्यमंत्री नेफिउ रियो ने सोमवार को कहा था कि AFSPA को हटाया जाना चाहिए क्योंकि यह उनके राज्य में अशांति की वजह है. यह टिप्पणी और भी अहम है क्योंकि रियो भाजपा के सहयोगी हैं और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) का हिस्सा हैं.


नगालैंड के मोन जिले में शनिवार को सेना के एक ऑपरेशन में गलत पहचान के चलते 14 ग्रामीणों और एक सैनिक की मौत हो गई थी. पुलिस की एक प्राथमिकी में कहा गया है कि सेना की 21 पैरा स्पेशल फोर्सेज ने 'खुली गोलियां चलाईं'.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को संसद में एक बयान में घटना पर खेद व्यक्त किया और कहा कि यह गलत पहचान की वजह से हुआ.