मुंबई के ताज होटल को मिली 26/11 जैसे हमले की धमकी, पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा : पुलिस से जुड़े सूत्र

पुलिस को इन फोन कॉल्स के बारे में सूचना दी गई थी. इस बारे में बात करते हुए पुलिस के सोर्स ने मंगलवार सुबह बताया कि दोनों होटल्स की सिक्योरिटी को बढ़ा दिया गया है. इसी बीच ताज होटल द्वारा एक बयान जारी किया गया है. 

मुंबई के ताज होटल को मिली 26/11 जैसे हमले की धमकी, पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा : पुलिस से जुड़े सूत्र

सोमवार रात को होटल ताज में आया था धमकी वाला कॉल.

नई दिल्ली:

साउथ मुंबई (South Mumbai) में स्थित दो ताज होटल्स (Taj Hotels) में सोमवार रात को पाकिस्तान (Pakistan) से धमकी वाले फोन कॉल आए थे. फोन करने वाले 26/11 हमले जैसा हमला एक बार फिर होने की धमकी दी थी. इसकी बाद पुलिस को इन फोन कॉल्स के बारे में सूचना दी गई थी. इस बारे में बात करते हुए पुलिस के सोर्स ने मंगलवार सुबह बताया कि दोनों होटल्स की सिक्योरिटी को बढ़ा दिया गया है. इसी बीच ताज होटल द्वारा एक बयान जारी किया गया है. 

अपने इस बयान में होटल ताज ने कहा है कि वो हर तरह से जांच एजेंसियों का सहयोग कर रहे हैं और साथ ही महमानों की सुरक्षा का भी इंतजाम किया गया है. उन्होंने अपने बयान में कहा, ''हमें इस देश का हिस्सा होने पर गर्व है और हमारे महमानों और सहयोगियों की सुरक्षा हमारे लिए सबसे ज्यादा जरूरी है. इन फॉन कॉल्स के बारे में हमने तुरंत ही अधिकारियों को जानकारी दी और जांच एजेंसियों को पूर्ण समर्थन और सहयोग प्रदान कर रहे हैं''. 

बयान में आगे कहा गया है, ''हमारी सेफ्टी और सिक्योरिटी टीम इस बात का पूरी तरह से ध्यान रख रही हैं कि सभी प्रोटोकॉल संबंधी गाइडलाइन्स का पालन किया जाए, ताकि सभी लोग सुरक्षित रह सकें. हम अपने मेहमानों और सहयोगियों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि परिसर की सुरक्षा के लिए सभी पर्याप्त कदम उठाए जा रहे हैं.''


पुलिस सूत्रों के मुताबिक मुबंई के कोलाबा में स्थित ताज महल पैलेस होटल (Taj Mahal Palace Hotel) और बैंड्रा के ताज लैंड्स एंड (Taj Lands End) दोनों के पास पिछली रात को धमकी वाले फोन कॉल आए थे. एक ओर जहां दोनों होटल द्वारा सिक्योरिटी का ध्यान रखा जा रहा है. वहीं दूसरी ओर पुलिस कहना है कि वो कॉलर की पहचान करने में जुटी हुई है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोलाबा में स्थित ताज महल पैलेस पर भी 2008 में हुए मुंबई आतंकी हमले के दौरान टार्गेट किया गया था. लश्कर-ए-तैयबा के 10 हथियारबंद आतंकियों ने ताज महल पैलेस होटल, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस रेलवे स्टेशन, लियोपोल्ड कैफे जैसी जगहों पर हमले किए थे. तीन दिन की घेराबंदी में कम से कम 174 लोगों की मौत हुई थी और 300 से अधिक लोग घायल हो गए थे.