मुंबई में कोरोना के 10 हजार से ज्यादा मामले मिले, 89 फीसदी में कोविड के कोई लक्षण नहीं

मुंबई में कोरोना के नए मामलों में 89 फीसदी के कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं. आज आये नये मरीजों में से 834 को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है. उनमें से 52 को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी है.

मुंबई:

मुंबई में कोरोना के मामलों में बड़ा उछाल देखने को मिला है. मंगलवार को महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में कोरोना के 10860 नए मरीज मिले हैं. जो सोमवार के मुकाबले 34 प्रतिशत अधिक हैं. हालांकि इन मामलों में 89 फीसदी के कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं. आज आये नये मरीजों में से 834 को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है. उनमें से 52 को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी है. वहीं दो मरीजों की मौत भी हुई है. स्वास्थ्य विभाग ने कुल 49661 कोविड टेस्ट भी किए हैं.

WHO Chief Scientist ने बताया भारत कैसे निपट सकता है तीसरी लहर से, आप भी जानें

बता दें कि एनडीटीवी से बात करते हुए मुंबई में बढ़ते मामलों के बीच बीएमसी की मेयर ने कहा है कि अगर ओमिक्रॉन की सुनामी भी आती है तो हम उसका सामना करने को भी तैयार हैं. महाराष्ट्र के 70 फीसदी से ज्यादा मामले मुंबई में ही मिल रहे हैं. राज्य में कड़ी पाबंदियों के बीच ये मामले बढ़ रहे हैं. 

हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक मुंबई में रिकवरी रेट 92 प्रतिशत है और 28 दिसंबर 2021 से 3 जनवरी 2022 तक कोविड मामलों का ग्रॉथ रेट 0.63 प्रतिशत है. वहीं डबलिंग रेट 110 दिन है. वर्तमान में 16 कंटेनमेंट जोन हैं और 389 बिल्डिगों को सील किया हुआ है. पिछले 24 घंटे में 31015 लोगों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की गई है. 

'मुंबई कोविड की "सुनामी" का सामना करने के लिए भी तैयार', NDTV से बोलीं मेयर

कोरोना के चलते स्कूल बंद
बता दें कि कोरोना के मामलों में आई वृद्धि को देखते हुए बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने शहर के स्कूलों को बंद करने का निर्णय लिया है. सोमवार को नगर निकाय ने कक्षा 1 से 9 और 11 के सभी स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया. आदेश के अनुसार स्कूल 31 जनवरी तक के लिए बंद किए जा रहे हैं. नगर निगम के एक अधिकारी ने कहा कि मुंबई में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच कक्षा 1 से 9 और 11 के लिए सभी विद्यालय 31 जनवरी तक बंद रहेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मुंबई में फिर फैलने लगा कोरोना, नेस्को कोविड सेंटर में 8 दिन में 500 के पार पहुंची मरीजों की संख्या