मिल्खा सिंह के घर पहुंचे CM अमरिंदर सिंह, राजकीय सम्मान के साथ होगा अंतिम संस्कार

स्वतंत्र भारत के सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक मिल्खा सिंह (Milkha Singh) का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान (state honors) के साथ शनिवार की शाम यहां किया जायेगा . उनका कोरोना संक्रमण से एक महीने तक जूझने के बाद कल देर रात निधन हो गया .

मिल्खा सिंह के घर पहुंचे CM अमरिंदर सिंह, राजकीय सम्मान के साथ होगा अंतिम संस्कार

राजकीय सम्मान के साथ होगा मिल्खा सिंह का अंतिम संस्कार. (फाइल फोटो)

चंडीगढ़:

स्वतंत्र भारत के सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक मिल्खा सिंह (Milkha Singh) का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान (state honors) के साथ शनिवार की शाम यहां किया जायेगा . उनका कोरोना संक्रमण से एक महीने तक जूझने के बाद कल देर रात निधन हो गया . पंजाब सरकार (Punjab Govt) ने मिल्खा सिंह के निधन पर एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह धावक मिल्खा सिंह के अंतिम दर्शन के लिए उनके निवास स्थल पर पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि दी.

इससे पहले मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Punjab CM Amarinder Singh) ने ट्वीट कर कहा ,‘‘ मैने निर्देश दिया है कि दिवंगत मिल्खा सिंह जी का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जायेगा.''

ऐसे बने मिल्खा सिंह 'फ्लाइंग सिख', पाकिस्तान के राष्ट्रपति ने दी थी, यह 'उपाधि'

उन्होंने लिखा ,‘‘इसके साथ ही इस महान खिलाड़ी के प्रति सम्मान स्वरूप पंजाब में एक दिन का राजकीय शोक रहेगा .'' इससे पहले उन्होंने ट्वीट किया था ,‘‘ मिल्खा सिंह जी के निधन से दुखी और स्तब्ध हूं . इससे भारत और पंजाब के लिये एक युग का अंत हो गया . उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदना. वह आने वाली पीढियों के लिये प्रेरणास्रोत रहेंगे .''

मिल्खा सिंह के परिवार के एक प्रवक्ता ने कहा था ,‘‘ अंतिम संस्कार शनिवार को शाम पांच बजे होगा .'' मिल्खा के परिवार में पुत्र गोल्फर जीव मिल्खा सिंह और तीन बेटियां हैं. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि भारत ने एक महान खिलाड़ी को खो दिया.


मिल्खा सिंह का निधन, पीएम मोदी-शाहरुख खान सहित कई हस्तियों ने 'फ्लाइंग सिख' को नम आंखों से किया याद

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा ,‘‘मिल्खा जी हमारे बीच नहीं रहे लेकिन वह देश का नाम रोशन करने के लिये हर भारतीय को प्रेरित करते रहेंगे . फ्लाइंग सिख हमेशा भारतीयों के दिल में रहेगा.'' पंजाब के राज्यपाल और चंडीगढ केंद्रशासित प्रदेश के प्रशासक वी पी सिंह बदनोर ने कहा ,‘‘ फ्लाइंग सिख पद्मश्री मिल्खा सिंह जी के निधन से दुखी हूं . भारत ने एक और अनमोल जिंदगी कोरोना के कारण गंवा दी . खेलों में उनके योगदान को हमेशा याद रखा जायेगा.''



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)