कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री कार्यालय में बैठक

देश के कुछ राज्‍यों, खासकर महाराष्‍ट्र और केरल में कोरोना के केसों में हाल में हुए इजाफे के मद्देनजर यह बैठक बुलाई गई.

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री कार्यालय में बैठक

Coronavirus Cases in India: पिछले डेढ़ सप्‍ताह में देश में कोरोना के मामलों की संख्‍या बढ़ी है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

नई दिल्ली:

Covid-19 Pandemic: देश में कोरोना संक्रमण के केसों में आए ताजा उछाल को लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय में इस समय महत्‍वपूर्ण बैठक आयोज‍ित हुई. बैठक में केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण भी मौजूद रहे. देश के कुछ राज्‍यों, खासकर महाराष्‍ट्र और केरल में कोरोना के केसों में हाल में हुए इजाफे के मद्देनजर यह बैठक बुलाई गई.कोरोना के बढ़ते केसों के चलते महाराष्‍ट्र के कुछ शहरों में नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है. केसों में वृद्धि का यह दौर जारी रहा तो महानगर मुंबई में फिर से लॉकडाउन की नौबत आ सकती है. देश में कोरोना के केसों के इस बढ़ते दौर के बीच मास्‍क न पहनने वालों के खिलाफ प्रशासन की ओर से सख्‍ती  बरती जा रही है. देश में भी एक समय कोरोना के नए केसों की संख्‍या कुछ समय पहले 10 हजार के आंकड़े के नीचे आ गई थी जो अब बढ़ते हुए रोजाना 13-14 हजार तक पहुंच है.

मध्य प्रदेश के इस जिले में नाइट कर्फ्यू का ऐलान, महाराष्ट्र से लगती है सीमा

महानगर मुम्बई में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा, जो रोजाना 350 के करीब पहुंच गया था वो पिछले सप्ताहभर में बढ़कर 900 तक छलांग लगा चुका है. यही वजह है कि एक बार फिर से शहर में लॉकडाउन की चर्चा ने जोर पकड़ लिया है. फिर से लॉकडाउन न लगाना पड़े इसलिए एक तरफ जहां राजनीतिक, धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रमों पर पाबंदी लगा दी गई है, वहीं वहीं विवाह और बर्थडे पार्टी समारोह में एक साथ 50 से ज्यादा की भीड़ पर पाबंदी लगा दी गई है. 


अफवाह बनाम हकीकत : प्राइवेट सेक्टर के आने से टीकाकरण अभियान को मिलेगी रफ्तार? जानिए

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com