ममता बनर्जी ने 5 आपराधिक मामलों का जिक्र नामांकन में नहीं किया, चुनाव आयोग को दी शिकायत में बोली बीजेपी

बीजेपी की भबानीपुर सीट से प्रत्याशी प्रियंका टिबरेवाल (Priyanka Tibrewal) के मुख्य निर्वाचन एजेंट ने भबानीपुर के रिटर्निंग अफसर को दी गई शिकायत में यह आरोप लगाया है. 

ममता बनर्जी ने 5 आपराधिक मामलों का जिक्र नामांकन में नहीं किया, चुनाव आयोग को दी शिकायत में बोली बीजेपी

Mamata Banerjee भबानीपुर विधानसभा सीट से लड़ रही हैं चुनाव

कोलकाता:

कोलकाता की भबानीपुर (Bhabanipur) विधानसभा सीट पर सियासी घमासान तेज होता जा रहा है. बीजेपी ने दावा किया है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने अपने नामांकन में उनके ऊपर चल रहे पांच आपराधिक मामलों का उल्लेख नहीं किया है. बीजेपी की यहां से प्रत्याशी प्रियंका टिबरेवाल (Priyanka Tibrewal) के मुख्य निर्वाचन एजेंट ने भबानीपुर के रिटर्निंग अफसर को दी गई शिकायत में यह आरोप लगाया है. हालांकि तृणमूल कांग्रेस ने इन आरोपों को गलत बताया है कि ममता बनर्जी ने उनके खिलाफ चल रहे 5 आपराधिक मामलों का उल्लेख नामांकन पत्र में नहीं किया है.

भबानीपुर सीट पर 30 सितंबर को चुनाव होना है. पार्टी का कहना है कि उन्हें इन आपराधिक मामलों का जिक्र करना तभी आवश्यक होता है, जब उनका नाम चार्जशीट में हो. ममता बनर्जी को मुख्यमंत्री बने रहने के लिए यहां से चुनाव जीतना है. अप्रैल-मई में हुए विधानसभा चुनाव में वो नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनाव हार गई हैं. 


उन्होंने तीन पब्लिकेशन में छपी खबरों का हवाला दिया है, जिसमें कहा गया है कि ये मामले बीजेपी शासित असम में ये केस दर्ज किए गए हैं. शिकायत पत्र में कहा गया है कि प्रत्याशी उनके खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी देने में असफल रही हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


खबरों में अगस्त 2018 की इंडिया टुडे की रिपोर्ट का हवाला दिया गया है कि असम पुलिस ने एनआरसी मुद्दे पर भड़काऊ बयान को लेकर उनके खिलाफ केस दर्ज किया था. इन मुकदमों के कुछ दिनों पहले ममता बनर्जी ने असम में एनआरसी को लेकर कई गंभीर बयान दिए थे. खबरों के मुताबिक, जो लोग बीजेपी में हैं वो वोटर लिस्ट में रहेंगे. जो उसे वोट नहीं करेंगे, उनका नाम लिस्ट से हटा दिया जाएगा.