महाराष्ट्र में लॉकडाउन को लेकर आज फैसला ले सकते हैं उद्धव ठाकरे : मंत्री

राज्य के मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि महाराष्ट्र के सभी मंत्रियों ने मुख्यमंत्री से लॉकडाउन लगाने का अनुरोध किया है और इस बारे में अंतिम निर्णय की बुधवार रात 8 बजे घोषणा की जाएगी.

महाराष्ट्र में लॉकडाउन को लेकर आज फैसला ले सकते हैं उद्धव ठाकरे : मंत्री

'महाराष्ट्र के सभी मंत्रियों ने मुख्यमंत्री से लॉकडाउन लगाने का अनुरोध किया है'

मुंबई:

Lockdown in Maharashtra: महाराष्ट्र में बेकाबू कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण को देखते हुए राज्य में संपूर्ण लॉकडाउन (Lockdown in Maharashtra) लगाए जाने को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) बुधवार को घोषणा कर सकते हैं. राज्य के मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि महाराष्ट्र के सभी मंत्रियों ने मुख्यमंत्री से लॉकडाउन लगाने का अनुरोध किया है और इस बारे में अंतिम निर्णय की बुधवार रात 8 बजे घोषणा की जाएगी. न्यूज एजेंसी ANI ने राजेश टोपे के हवाले से बताया, 'हम सबने मुख्यमंत्री से संपूर्ण लॉकडाउन लगाने बुधवार रात 8 बजे से पूर्ण लॉकडाउन लगाने का अनुरोध किया है. यह सभी मंत्रियों का अनुरोध है और अब फैसला उन्हें लेना है.'

कोरोना की दूसरी लहर से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में पिछले कई दिनों से प्रतिदिन 50000 से ज्यादा नए संक्रमित मिल रहे हैं. मंगलवार को राज्य में 58,924 नए मरीज मिले जबकि 351 लोगों की मौत हो गई.

मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी से राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है और यहां के अस्पतालों में बेड, दवाओं और जीवनरक्षक ऑक्सीन की किल्लत की खबरें लगातार सामने आ रही हैं.


इसी महीने उद्धव ठाकरे ने कोरोना को काबू में करने के लिए पहले नाइट कर्फ्यू और फिर वीकेंड लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया था लेकिन राज्य में हालात बिगड़ते हुए ही दिखाई दे रहे हैं. पिछले हफ्ते महाराष्ट्र में लगातार 60 हजार से ज्यादा नए मामले दर्ज किए गए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सोमवार को दिल्ली सबसे ज्यादा प्रभावित शहर रहा जहां 32000 नए मामले दर्ज किए गए. दिल्ली में सोमवार रात 10 बजे से ही लॉकडाउन लगाया गया है जो कि अगले सोमवार 26 अप्रैल की सुबह 5 बजे तक जारी रहेगा. दिल्ली को भी महाराष्ट्र की तरह ऑक्सीजन की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि कई अस्पतालों में कुछ घंटों में ऑक्सीजन खत्म हो जाएगी.