कृषि कानून: किसानों का रेल रोको आंदोलन कल, रेलवे ने की खास तैयारियां, इस बात पर दिया जा रहा ध्‍यान..

किसानों ने अपना आंदोलन और तेज करते हुए कल यानी 18 फरवरी को रेल रोको आंदोलन (Rail Roko Andolan)का ऐलान किया है.

नई दिल्ली:

Farmer's Protest: कृषि कानूनों (Farm laws) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों की सरकार के साथ बातचीत अब तक समाधान तक नहीं पहुंच पाई है. सरकार और आंदोलनकारी किसानों के बीच अब तक 10 से अधिक राउंड की बात हो चुकी है लेकिन कोई सर्वसम्‍मति नहीं बन पाई है. इस बीच किसानों ने अपना आंदोलन और तेज करते हुए कल यानी 18 फरवरी को रेल रोको आंदोलन (Rail Roko Andolan)का ऐलान किया है. इस आंदोलन के मद्देनजर रेलवे ने खास तैयारियां की है. रेलवे प्रोटेक्‍शन फोर्स यानी RPF के डीजी अरुण कुमार ने बताया, आंदोलन के मद्देनजर हमने GM के साथ आंतरिक बैठक की है. जनरल मैनेजर को कहा गया है कि लोकल स्तर पर राज्य सरकार और DM SP से संपर्क में रहें और इस बात पर नजर रखें कि कहां क्या स्थिति है.


BJP किसान मोर्चा के अध्यक्ष राजकुमार चाहर बोले- दूर करेंगे कृषि कानूनों पर फैला भ्रम

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्‍होंने बताया कि पहले से सूचना के आधार पर अतिरिक्त फोर्स की तैनाती की गई है. संवेदनशील इलाके नॉदर्न रेलवे का फिरोज़पुर, अंबाला डिवीजन और कुछ हिस्सा दिल्ली डिवीजन का है. इसके अलावा थोड़ा बंगाल, ईस्ट सेंट्रल रेलवे, बिहार, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली डिवीजन में भी ज़्यादा फोर्स की तैनाती की गई है. यह कॉल 4 घंटे का ही दिया है.  पता चला कि वो 12 बजे से कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि स्थिति शांतिपूर्ण रहे और रेल यात्रियों को कम से कम परेशानी हो. संवेदनीशीलता के चलते पंजाब, हरियाणा, यूपी, बंगाल, बिहार में खास सतर्कता बरती जा रही है.