केरल : 104 वर्ष की महिला ने कोरोना को दी मात, अस्पताल से मिली छुट्टी

केरल (Kerala) के उत्तरी कन्नूर जिले में 104 वर्ष की एक वृद्ध ने 11 दिन में कोरोनावायरस (Coronavirus) को मात दे दी.

केरल : 104 वर्ष की महिला ने कोरोना को दी मात, अस्पताल से मिली छुट्टी

बुजुर्ग महिला को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • 104 वर्षीय महिला ने कोरोना को हराया
  • बुजुर्ग को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है
  • 2 और बुजुर्ग महिलाओं ने कोविड को मात दी
कन्नूर:

केरल (Kerala) के उत्तरी कन्नूर जिले में 104 वर्ष की एक वृद्ध ने 11 दिन में कोरोनावायरस (Coronavirus) को मात दे दी और उन्हें ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी मिल गई है. इससे राज्य में स्वास्थ्य बिरादरी में एक नया जोश भर गया है, जो संक्रमण को रोकने का दिन रात प्रयास कर रहा है. स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया कि 104 वर्षीय जानकी अम्मा को जब गत 31 मई को परियाराम के सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था, तब उनकी हालत गंभीर थी.

ऑक्सीजन के स्तर में भारी गिरावट के बाद उन्हें तालीपरम्बा में समर्पित कोविड देखभाल केंद्र से मेडिकल कॉलेज आईसीयू ले जाया गया. जानकी अम्मा की बहू और उनकी मां का अभी भी वायरस संक्रमण के लिए इलाज चल रहा है. स्वास्थ्य विभाग के एक बयान में कहा गया है कि परियाराम मेडिकल कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य डॉ. एस अजित और अस्पताल के अन्य कर्मचारियों ने उन्हें शुभकामनाएं दीं.

कोरोना का डेल्टा वेरिएंट 60 फीसदी ज्यादा संक्रामक, एक्सपर्ट्स बोले- ये टीके के असर को कम कर देता है

स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने जानकी अम्मा को शुभकामनाएं दीं, जिन्होंने अधिक आयु के बावजूद कोविड को मात दी. उन्होंने कहा, ‘‘जानकी अम्मा का इस उम्र में बीमारी से लड़ने के लिए आत्मविश्वास सभी के लिए एक प्रेरणा है.''


मंत्री ने अस्पताल के डॉक्टरों, नर्सों और अन्य कर्मचारियों की भी प्रशंसा की, जिन्होंने महिला को संक्रमण से उबरने में मदद की. राज्य में इससे पहले 110 और 105 साल की दो महिलाएं इस बीमारी से ठीक हो चुकी हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: तीसरी लहर के अंदेशों के बीच कोरोना संक्रमित बच्चों को रेमडेसिविर नहीं देने की सलाह



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)