'ये तो एक ट्रेलर था', इजरायली दूतावास के पास मिले लिफाफे में रखी चिट्ठी का मजमून: पुलिस ढूंढ रही ईरान कनेक्शन

दिल्ली पुलिस ने शहर के सभी होटलों से ईरानी नागरिकों की जानकारी मांगी है. इसके साथ ही सभी होटलों को पिछले एक महीने में ईरान से आए लोगों की भी जानकारी देने को कहा गया है. इस बीच आज एनएसजी और एनआीए की टीम ने भी घटना स्थल का मुआयना किया.

'ये तो एक ट्रेलर था', इजरायली दूतावास के पास मिले लिफाफे में रखी चिट्ठी का मजमून: पुलिस ढूंढ रही ईरान कनेक्शन

दिल्ली पुलिस ने शहर के सभी होटलों से ईरानी नागरिकों की जानकारी मांगी है.

नई दिल्ली:

इजरायली दूतावास (Israel Embassy) के पास शुक्रवार की शाम हल्का आईईडी ब्लास्ट हुआ था. इससे सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ गई है. मौका-ए-वारदात पर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) को एक लिफाफा मिला था जिसके अंदर इजरायल के राजदूत को संबोधित करते हुए एक चिट्ठी लिखी गई थी. चिट्ठी में कहा गया है कि यह तो एक ट्रेलर था. चिट्ठी में ईरान के उस जनरल कासिम सुलेमानी का भी जिक्र है, जिनकी 3 जनवरी 2020 को इराक में बगदाद एयरपोर्ट के पास ड्रोन हमले में हत्या कर दी गई थी. इस लिहाज से जांच एजेंसियां इस धमाके में ईरान कनेक्शन की भी तलाश कर रही है.

दिल्ली पुलिस ने शहर के सभी होटलों से ईरानी नागरिकों की जानकारी मांगी है. इसके साथ ही सभी होटलों को पिछले एक महीने में ईरान से आए लोगों की भी जानकारी देने को कहा गया है. इस बीच आज एनएसजी और एनआीए की टीम ने भी घटना स्थल का मुआयना किया. एनएसजी को आईडी ब्लास्ट में इस्तेमाल किए गए विस्फोटकों की जांच करने को कहा गया है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि मौके पर 3D मैपिंग की जा रही है. इसके अलावा स्पेशल सेल की टीम रिक्रिएशन कर रही है.

इजरायली दूतावास में हुए धमाके का मकसद सिर्फ एक मैसेज देना : दिल्ली पुलिस के सूत्र

इजरायली दूतावास के पास जहां ब्लास्ट हुआ है, वहां गड्ढा हुआ है. पुलिस ने वहां से बॉल बेयरिंग और IED के अवशेष बरामद किए हैं.  फॉरेंसिक टीम को अमोनियम नाइट्रेट के इस्तेमाल के निशान मिले हैं, क्योंकि गड्ढा कम हुआ था. सूत्रों का कहना है कि धमाके में RDX का इस्तेमाल होता तो गड्ढा और इम्पैक्ट ज्यादा होता. मौके पर एक पिंक कलर का दुपट्टा भी मिला है, जो आधा जला हुआ है, पुलिस ब्लास्ट के पिंक दुपट्टे का भी कनेक्शन तलाश रही है.

इजरायली दूतावास के पास धमाके में पुलिस के हाथ अहम सुराग, बनवा रही 2 संदिग्ध के स्केच: 10 बातें


बता दें कि दिल्ली के लुटियंस जोन्स में औरंगजेब रोड पर स्थित इजरायली दूतावास के बाहर शुक्रवार (29 जनवरी) की शाम कम तीव्रता का एक आईईडी विस्फोट तब हुआ जब वहां से कुछ किलोमीटर की दूरी पर गणतंत्र दिवस समारोहों के सपमान के तौर पर होने वाला ''बीटिंग रीट्रिट'' कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वैकेंया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मौजूद थे. केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों के संपर्क में हैं और हालात पर नजर बनाए हुए हैं. इसकी जांच दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल कर रही है. 

वीडियो- दिल्‍ली में इजराइल दूतावास के बाहर ब्लास्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com